पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Ayodhya
  • AIMIM On The Backfoot, Wrote Ayodhya Instead Of Faizabad In The Name Of The District In The Banner, Rectified It, Jagadguru Paramhansacharya Had Warned Not To Hold The Meeting.Ayodhya.Aimim. Postar. Paramhans

AIMIM ने ओवैसी के आने से पहले गलती सुधारी:ओवैसी की सभा के लिए पोस्टर-बैनर में अयोध्या की जगह फैजाबाद लिखा गया था, अब वापस अयोध्या लिखा; जगद्गुरु ने जताया था विरोध

अयोध्या21 दिन पहले

अयोध्या में संतों के विरोध के बाद ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) ने अपनी गलती सुधार ली है। AIMIM अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी के कार्यक्रम से एक दिन पहले पार्टी के नेताओं ने नए पोस्टर और बैनर लगा दिए हैं। इसमें फैजाबाद की जगह अयोध्या ही लिखा गया है। रविवार को ही इसको लेकर जगदगुरु परमहंसाचार्य ने रुदौली पहुंचकर पोस्टर में जिले का नाम अयोध्या न होने पर आपत्ति जताई थी। उन्होंने चेतावनी दी थी कि इसे ठीक नहीं किया गया तो वह ओवैसी की सभा नहीं होने देंगे।

कल होनी है जनसभा
अयोध्या के रुदौली विधान सभा क्षेत्र में वोटर्स को अपनी ओर करने के लिए AIMIM ने कल यानी 7 सितंबर को ओवैसी का सम्मेलन कराने का फैसला लिया है। इसी सभा को लेकर कुछ दिनों पहले पोस्टर और बैनर जारी किया गया था। इसमें जिले का नाम अयोध्या की जगह फैजाबाद लिखा गया था। इसी को लेकर संतों और अयोध्या के लोगों ने विरोध शुरू कर दिया था। कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लेने के लिए AIMIM प्रदेश अध्यक्ष शौकत अली रुदौली पहुंचे।

AIMIM के प्रदेश अध्यक्ष शौकत अली ने रुदौली में मीडया से बातचीत की।
AIMIM के प्रदेश अध्यक्ष शौकत अली ने रुदौली में मीडया से बातचीत की।

इकबाल अंसारी पर किया पलटवार
शौकत अली ने रुदौली में मीडया से बातचीत करते हुए राम मंदिर मामले में मुस्लिम पक्षकार रहे इकबाल अंसारी पर पलटवार करते हुए विवादित टिप्पणी कर दी। शौकत ने इकबाल अंसारी को अशिक्षित बताया और कहा कि फैज़ाबाद किसी की जागीर नहीं है। अभी इकबाल राजनीति नहीं जानते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि अगर उनको राजनीति करनी हो तो मैदान में आए। वे सपा की बोलेरो पर घूमते हैं उनको टीवी पर दिखने का शौक है तो बीजेपी ज्वाइन कर लें। इससे पहले इकबाल अंसारी ने कहा था कि अयोध्या में ओवैसी की जरूरत नहीं है। वह मुसलमानों को धोखा देते हैं। इस वजह से हिंदुस्तान के मुसलमानों को ओवैसी से सावधान रहना चाहिए।

अयोध्या से चुनावी बिगुल फूंकने का मतलब ?
AIMIM के प्रदेश अध्यक्ष शौकत अली ने कहा कि अशफाक उल्ला खां को इसी फैज़ाबाद की जेल में फांसी दी गई है। इसी शहर में हमारे पैगंबर हजरत शीश अलैहिस्सलाम की मजार शरीफ मौजूद है। यह सरजमीन काफ़ी मुकद्दस है। इसीलिए AIMIM के राष्ट्रीय अध्यक्ष यहां से चुनावी सभाओं की शुरूआत कर रहे हैं।
शौकत अली ने कहा दरसअल सपा, बसपा सहित सभी राजनैतिक पार्टियां रामनगरी अयोध्या से शुरुआत कर रही हैं तो अब हमारी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी रामनगरी से ही चुनाव प्रचार की शुरुआत करेंगे।

खबरें और भी हैं...