पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अयोध्या में और शुद्ध होगा पर्यावरण:शहरी क्षेत्रों में सीएनजी वाहन संचालित किए जाएंगे, नया परमिट सीएनजी वाहनों को ही दिया जाएगा;मण्डलायुक्त की बैठक में लिया गया निर्णय

अयोध्याएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शुक्रवार को मण्डलायुक्त एमपी अग्रवाल की अध्यक्षता में आयुक्त कक्ष में मण्डलीय परिवहन प्राधिकरण की बैठक हुई। - Dainik Bhaskar
शुक्रवार को मण्डलायुक्त एमपी अग्रवाल की अध्यक्षता में आयुक्त कक्ष में मण्डलीय परिवहन प्राधिकरण की बैठक हुई।

अयोध्या मण्डल के शहरी क्षेत्रों में सीएनजी वाहन संचालित किए जाएंगे। इसके लिए अयोध्या और बाराबंकी में दो-दो सीएनजी पंप स्थापित किए गए हैं। यहां से नई पब्लिक ट्रांसपोर्ट को सीएनजी की सुविधा उपलब्ध रहेगी। प्रशासन की तरफ से पेट्रोल की जगह पर सीएनजी किट लगाने की व्यवस्था की गई है। इन पंप से नई पब्लिक ट्रांसपोर्ट को सीएनजी की सुविधा उपलब्ध रहेगी। नया परमिट सीएनजी वाहनों को ही दिया जाएगा। जिन वाहनों का परमिट समाप्त हो रहा है, वह धीरे धीरे रोड से हटा दिये जाएंगे।

राजकीय प्राधिकरण की गाइडलाइंस का पालन किया जाएगा
शुक्रवार को मण्डलायुक्त एमपी अग्रवाल की अध्यक्षता में आयुक्त कक्ष में मण्डलीय परिवहन प्राधिकरण की बैठक हुई। मण्डलायुक्त ने कहा कि राजकीय प्राधिकरण की जो गाइडलाइंस हैं उसका शत प्रतिशत पालन किया जाएगा। अधिकारियों से कहा कि नेशनल परमिट प्राप्त वाहन, जिनकी अवधि समाप्त हो गई है। उसको किसी भी हाल में नवीनीकरण न किया जाए। उससे संबंधित परमिट को निरस्त किया जाए। प्रशासन प्रदूषण नियंत्रण करने के लिए जो भी आवश्यक कदम हैं उसे उठा रहा है। अयोध्या जैसे महत्वपूर्ण शहर में सीएनजी व्यवस्था को ठीक प्रकार से लागू किया जाए। इसकी नियमित चेकिंग हो।

चेकिंग अभियान जारी रखा जाएजिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने कहा कि परिवहन विभाग को ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में कोविड प्रोटोकाल को देखते हुए चेकिंग अभियान जारी रखना चाहिए। राजस्व बढ़ाने के लिए भी जरूरी कदम उठाने की जरूरत है। इस बैठक में परिवहन विभाग के सम्भागीय परिवहन अधिकारी, सहायक परिवहन अधिकारी समेत कई अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...