अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2022 की तैयारियों में जुटा अवध विश्वविद्यालय:डॉ आलोक तिवारी ने कहा- शारीरिक स्वास्थ्य, मानसिक सुख व आध्यात्मिक प्रगति नियमित योग जरूरी

अयोध्या3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2022 की तैयारियों को लेकर लोगों को योग का अभ्यास करते हुए अवध विश्वविद्यालय के छात्र - Dainik Bhaskar
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2022 की तैयारियों को लेकर लोगों को योग का अभ्यास करते हुए अवध विश्वविद्यालय के छात्र

डॉ राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय की ओर से अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2022 को लेकर जागरूकता अभियान और प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। यह कार्यक्रम मिनी स्टेडियम, मकबरा और अयोध्या में 23 मई से 28 मई तक निःशुल्क किया जा रहा है । इसके माध्यम से लोगों को नियमित योग व्यायाम करने के लाभ बताए जा रहे है।

योग शाश्वत मूल्यों को करता है विकसित

अवध विश्वविद्यालय के योग विज्ञान विभाग के आचार्य डॉ आलोक तिवारी ने बताया कि शारीरिक स्वास्थ्य, मानसिक सुख व आध्यात्मिक प्रगति के लिए योग महत्वपूर्ण है, योग से बीमारियों को दूर कर खुद को स्वस्थ रख सकते हैं। योग से नैतिकता का विकास होता है और शाश्वत मूल्यों को विकसित किया जा सकता है। यदि शरीर और मन को स्वस्थ रखना है तो हमें योग की शरण में जाना होगा। योग का अभ्यास सीख कर बहुत से लोग लाभान्वित हो रहे।

अवध विश्वविद्यालय की ओर से योग प्रशिक्षण शिविर का आयोजन
अवध विश्वविद्यालय की ओर से योग प्रशिक्षण शिविर का आयोजन

पांच दिवसीय निशुल्क कार्यक्रम का आयोजन

योग विज्ञान विभाग द्वारा योग और स्वास्थ्य के प्रति समाज में जागरूकता का विस्तार किया जा रहा है। इस दौरान योग विभाग के विद्यार्थियों द्वारा जनसेवा का संकल्प पूर्ण कराया जा रहा है। योग विभाग के उत्तरार्ध के विद्यार्थी स्वेच्छा, तनुश्री, आशा और राजपाल के द्वारा विभाग के आचार्य डॉ आलोक तिवारी, डॉ अनुराग सोनी और सुश्री गायत्री वर्मा के निर्देशन में योग का प्रशिक्षण दिया जा रहा है, जो शारीरिक शिक्षा खेल एवं योगिक विज्ञान संस्थान के निदेशक प्रो संत शरण मिश्र के मार्गदर्शन में आयोजित हो रहा है। यह प्रशिक्षण प्रातः 6.30 से 7.30 तक 28 मई तक नियमित आयोजित होगा।

खबरें और भी हैं...