• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Ayodhya
  • Half Of The Track Of The Sharda Sahayak Canal Was Washed Away, There Was Tremendous Cutting In The Rest, People Of 15 Villages Were Afraid, The Administration Did Not Reach After The Information

अयोध्या में बरसात से सहमें ग्रामीण:शारदा सहायक नहर की पटरी का आधा हिस्सा बह गया,बचे हुए में जबरदस्त कटान,15 गांवों के लोग भयभीत,सूचना के घंटो बाद भी नहीं पहुंचा प्रशासन

अयोध्याएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अयोध्या के शारदा सहायक नहर में गुरुवार को सुबह कटान देखने के बाद लोगों ने इसकी सूचना एसडीएम व नहर विभाग को दी - Dainik Bhaskar
अयोध्या के शारदा सहायक नहर में गुरुवार को सुबह कटान देखने के बाद लोगों ने इसकी सूचना एसडीएम व नहर विभाग को दी

अयोध्या में बीती रात से लगातार हो रही वर्षा के चलते शारदा सहायक नहर की पटरी का जबरदस्त कटान हो रही हैl इससे भयभीत ग्रामीणों ने इस सम्बंध में प्रशासनिक अधिकारियों का सूचना दे दी हैl इसके बाद भी नहीं पहुंचा प्रशासनिक मदद नहीं पहुंच सकी हैl

अयोध्या शारदा सहायक नहर की आधी पटरी बहने के बाद गांवों में भय
अयोध्या शारदा सहायक नहर की आधी पटरी बहने के बाद गांवों में भय

खंडासा थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत टंडवा गांव के पास नहर को खतरा
झमाझम बारिश के बीच शारदा सहायक नहर की पटरी टूटने की कगार पर होने से ग्रामीणों को उसके कटने की चिंता बनी हुई है।खंडासा थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत टंडवा गांव के पास स्थित शारदा सहायक नहर पर बनी कदम पुलिया के पास बड़ी तेजी नहर का कटान हो रहा है।यह जानकारी ग्रामीणों को तब हुई जब वे बृहस्पतिवार की सुबह नहर की पटरी पर गए हुए थे। लोगों ने देखा कि की नहर की पटरी का आधा हिस्स नहर के पानी के बहाव में कटकर बह गया तथा बचे हिस्से में पानी का जबरदस्त दबाव बना हुआ है।

एसडीएम व नहर विभाग को दी गई जानकारी के बाद भी नहीं पहुंची टीम

ग्रामीणों ने सबसे पहले इसकी सूचना ग्राम प्रधान प्रतिनिधि अमर प्रताप सिंह को दी।तेज बारिश के बीच ग्राम प्रधान प्रतिनिधि मौके पर पहुंचकर नहर की पटरी के हो रहे कटान के संबंध में पहले खंडासा पुलिस को जानकारी दी। जिसके बाद ग्राम प्रधान प्रतिनिधि ने बड़े पैमाने पर हो रही नहर की पटरी के कटान के संबंध में उप जिला अधिकारी मिल्कीपुर दिग्विजय प्रताप को उनके सीयूजी नंबर 9454 416105 पर दी गईl उन्हें नहर की पटरी के कटान की फोटो भी भेज दिया।इतना ही नहीं प्रधान प्रतिनिधि समेत ग्रामीणों ने पूरे मामले की जानकारी नहर विभाग के उच्च अधिकारियों को भी दी लेकिन मौके तक कोई भी अधिकारी कर्मचारी नहीं पहुंच सका।अधिशासी अभियंता शारदा सहायक नहर,रजनीश गौतम ने बताया कि दिखवा करके कार्य कराया जाएगा।

इन गांवों के लोगों को है खतरा

लोगों का कहना है कि यदि प्रशासन समय रहते नहीं चेता तो पटरी टूट कर दोनों नहर एक हो जाएगी और ऐसा हो जाने पर शारदा सहायक नहर की पूर्वी पटरी पानी के तेज बहाव में आकर टूट जाएगी। जिससे अमानीगंज बाजार ,मोहम्मदपुर ,ओरवा, कुसुली का पुरवा विनायकपुर सहित दर्जनों गांव नहर के पानी की चपेट में आ जाएंगे।सबसे भारी नुकसान क्षेत्रीय किसानों का होगा।इससे करीब दस हजार लोग प्रभावित होंगेl

खबरें और भी हैं...