रामविवाह के उल्लास में डूबी अयोध्या:मंगल गीतों के बीच भगवान का हुआ तिलक,लगी हल्दी,आठ को 12 मंदिरों से निकलेगी रामबारात

अयोध्याएक महीने पहले

अयोध्या भगवान श्रीराम क़े विवाह उत्सव में डूबी हुई हैl आठ दिसंबर को यहां के 12 मंदिरों से धूमधाम से राम बारात निकलेगी जिसमें संतों-महंतों सहित लाखों भक्त शामिल होंगेlबारातों के लौटने पर मंदिरों में धूमधाम से भगवान राम व सीता जी का विवाह होगाl इससे पहले आज राम जी को हल्दी लगी व उनका तिलक उत्सव धूमधाम से हुआl

जानकी महल ट्रस्ट में जनक जी के बाग में पुष्प चुनते भगवान श्रीराम व लक्ष्मण
जानकी महल ट्रस्ट में जनक जी के बाग में पुष्प चुनते भगवान श्रीराम व लक्ष्मण
सीताराम विवाह उत्सव के लिए सजा कनक भवन का गर्भगृह
सीताराम विवाह उत्सव के लिए सजा कनक भवन का गर्भगृह
जनक वाटिका में पुष्प तोड़ते भगवान श्रीराम व लक्ष्मण
जनक वाटिका में पुष्प तोड़ते भगवान श्रीराम व लक्ष्मण
पुष्प वाटिका प्रसंग देखने के लिए महंत भी पहुंचे
पुष्प वाटिका प्रसंग देखने के लिए महंत भी पहुंचे
महंतों का स्वागत करते जानकी महल ट्रस्ट के सदस्य
महंतों का स्वागत करते जानकी महल ट्रस्ट के सदस्य

इस बार के विवाह उत्सव में श्रद्धालुओं का उल्लास कई गुना

इस समारोह में शामिल होने के लिए देश के कोने- कोने से श्रद्धालु अपने आराध्य प्रभु श्रीराम व जानकी का विवाह देखने के लिए पहुंच चुके हैं। पिछले सालों की अपेक्षा इस बार के विवाह उत्सव में श्रद्धालुओं का उल्लास कई गुना हैl उनकी ऐसी मनोकामना है कि बहुत जल्द हमारे आराध्य के जन्म स्थान पर भव्य मंदिर का निर्माण होगा हम उसमें उनका दर्शन- पूजन करके अपने आप को धन्य महसूस करेंगे।

सीताराम विवाह उत्सव के लिए सजा श्रीरामवल्लभाकुंज का गर्भगृह
सीताराम विवाह उत्सव के लिए सजा श्रीरामवल्लभाकुंज का गर्भगृह

रामबल्लभाकुंज व जानकी महल ट्रस्ट में विवाह की तैयारियां पूरीं
श्रीरामवल्लभाकुंज में महंत रामशंकर दास के नेतृत्व में राम विवाह महोत्सव बड़े ही उल्लास के साथ मनाया जा रहा हैl आठ दिसंबर को भगवान श्री राम की भव्य बारात मंदिर परिसर से निकाली जाएगी। मंदिर क़े प्रमुख स्वामी राजकुमार दास के नेतृत्व व राष्ट्रीय कथावाचक प्रेमभूषण महाराज की मौजूदगी में भगवान का भव्य विवाह किया जाएगा।इसके साथ साथ कनक भवन, जानकी महल, रामहर्षण कुंज, दशरथ महल विअहुति भवन दिब्यकला कुंज, रंग महल,राम कचहरी, जगन्नाथ मंदिर सहित बारह मन्दिरों से भव्य बारात निकाली जाएगी।दशरथ महल बड़ा स्थान में महंत देवेंद्र प्रसादाचार्य के नेतृत्व मे विवाह उत्सव पर जगदगुरु रामानंदाचार्य रामदिनेशाचार्य महाराज की कथा के साथ-साथ फुलवारी का प्रसंग मनाया गया।

मंगल गीत के गायन के साथ-साथ हाथों में मेंहदी
किशोरी जी को अपनी पुत्री के रूप में मांगने वाले जानकी महल ट्रस्ट के श्रद्धालुओं में विवाह का उमंग देखते ही बनता है, अपने आराध्य प्रभु श्री राम की फुलवारी लीला देखने के लिए सुबह से ही माताएं बहनों तैयारी शुरू कर दी हैl मंगल गीत के गायन के साथ-साथ हाथों में मेंहदी रचा कर के सज- धज कर प्रभु श्री राम और माता जानकी के प्रथम मधुर मिलन की लीला देखने के लिए तैयार हो रही हैlभगवान श्रीराम नगर भ्रमण करते हुए पुष्प वाटिका में पहुंचते हैं जहां माता जानकी गौरी पूजन के लिए आई हैl पहली बार प्रभु श्री राम और माता जानकी का मिलन पुष्प वाटिका में होता हैl यह मंगल दृश्य देखकर वहां उपस्थित लोग हर्षित होकर माता जानकी और प्रभु श्री राम के जयकारे लगाने लगे। पुष्प वाटिका का पूरा मंचन मणिराम दास छावनी के उत्तराधिकारी महंत कमलनयन दास और तिवारी मंदिर के महंत गिरीशपति तिवार आदि की मौजूदगी में मनाया गया।

जानकी महल सहित कई मंदिर बने जनकपुर

कार्यक्रम के संयोजक आदित्य सुल्तानियां ने बताया कि हमारे यहां प्रभु श्री राम का विवाह मिथिला और मारवाड़ी पद्धति से मनाया जाता हैl हम लोग किशोरी जी को पुत्री के रूप में मानते हैं इसलिए यह प्रभु राम की ससुराल हैl हमारे यहां देश के सभी कोने से श्रद्धालु आए हैं और विवाह उत्सव के विभिन्न आयोजनों को देखकर भावविभोर हो रहे हैंl आज भगवान का तिलक उत्सव और8 दिसंबर को भव्य बारात निकाली जाएगीl रात में भगवान का विवाह होगा। ।

खबरें और भी हैं...