अयोध्या पहुंचा ओमीक्रॉन:रामनगरी में मिला पहला ओमिक्रोन संक्रमित मरीज

9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
राम नगरी अयोध्या में मिला ओमिक्रोण संक्रमित मरीज़। जिले में संक्रमित मरीज की संख्या 438 पहुंच गई है। - Dainik Bhaskar
राम नगरी अयोध्या में मिला ओमिक्रोण संक्रमित मरीज़। जिले में संक्रमित मरीज की संख्या 438 पहुंच गई है।

अयोध्या में पहला ओमीक्रॉन का मरीज मिला है। मरीज जिला अस्पताल में तैनात एक चिकित्सक का रिश्तेदार है। गुरुवार को जिले में 87 नए मरीज मिले थे। 20 मरीज संक्रमण से ठीक हुए है। जिले में संक्रमित मरीजों की संख्या 438 पहुंच गई है। स्वास्थ्य विभाग ने जिले में 21 हजार 403 लोगों को संक्रमण से बचाव के लिए टीके लगाए है। इसमें 1320 लोगों को तीसरी खुराक डोज लगाया गया है।

कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए गुरुवार को जनपद में 4589 संदिग्ध लोगों के नमूने लिए गए हैं। जिनमे 87 लोग संक्रमित पाए गए हैं। सभी मरीजों को होम आइसोलेशन में रखकर इलाज किया जा रहा है।

अरुणाचल प्रदेश से आने के बाद बिगड़ी तबीयत

जिला अस्पताल के चिकित्सक के अनुसार अंबेडकरनगर जिले के रहने वाले 41 वर्षीय उनके दामाद 20 दिसंबर को अरुणाचल प्रदेश से मिलने के लिए आए थे। 26 दिसंबर को उनकी तबीयत खराब होने के बाद जिला अस्पताल में कोरोना की जांच कराई गई थी, जिसके बाद उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इलाज के बाद भी स्वास्थ्य में सुधार न होने पर उन्हें लखनऊ के मेदांता में भर्ती कराया गया। कोरोना की रिपोर्ट सैंपल जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजा गया था, जिसमें ओमिक्रोन की पुष्टि हुई है। मरीज इजाल के बाद अब स्वस्थ्य है।

15 कोविड केयर चिकित्सालय बनाए गए

जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों को देखते हुए जिला प्रशासन की ओर से 15 कोविड अस्पताल बनाए गए हैं। इनमें पांच निजी चिकित्सालय शामिल है। इन चिकित्सालयों में 760 बेड की व्यवस्था की गई है। खास बात यह है कि सभी संक्रमित संक्रमित मरीजों का इलाज होम आइसोलेशन में चल रहा है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि कोरोना कि आपात स्थिति से निपटने के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं।

21 हजार 403 लोगों को संक्रमण से बचाव के लिए टीके लगाए गए

स्वास्थ्य विभाग की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार गुरुवार को जिले में 21 हजार 403 लोगों को संक्रमण से बचाव के लिए टीके लगाए गए हैं। इसके साथ ही 1320 लोगों को तीसरी डोज लगाई जा चुकी है।