पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

PM देंगे अयोध्या की विकास योजनाओं को पंख:अयोध्या से जुड़ी 20 हजार करोड़ की विकास योजनाओं को पीएम मोदी इसी माह वर्चुअली देखेंगे, हरी झंडी के बाद जारी होंगे टेंडर

अयोध्या3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अयोध्या के 9 द्वार बनाए जाने थे पर अभी अयोध्या के प्रवेश के लिए कुल 6 द्वार हैं, जिनमें प्रत्येक पर नागर शैली में निर्माण किया जाएगा। - Dainik Bhaskar
अयोध्या के 9 द्वार बनाए जाने थे पर अभी अयोध्या के प्रवेश के लिए कुल 6 द्वार हैं, जिनमें प्रत्येक पर नागर शैली में निर्माण किया जाएगा।

अयोध्या से जुड़ी करीब 20 हजार करोड़ की विकास योजनाओं को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हरी झंडी मिलने के बाद ही अब पंख लगेंगे। दो सप्ताह के अंदर प्रधानमंत्री वर्चुअल रूप से विकास योजनाओं से जुड़े अधिकारियों से वार्ता करेंगे। इस दौरान पीएम अयोध्या के विकास के लिए बनाए गए योजनाओं की जानकारी लेंगे। वार्ता के दौरान पीएम को योजनाओं से संबंधित लेआउट भी दिखाए जाएंगे। प्रधानमंत्री की मुहर लगने के बाद ही योजनाओं पर काम तेज हो जाएगा।

1100 एकड़ में नव्य अयोध्या होगी विकसित
बता दें, अयोध्या के विकास को लेकर करीब 20 हजार करोड़ की योजनाएं तैयार हैं। इनमें 1100 एकड़ में नव्य अयोध्या विकसित होना है। साथ ही अयोध्या के सभी प्रवेश द्वारों पर नागर शैली भव्य द्वार बनाए जाने हैं। भगवान विष्णु आठ चक्र पर स्थित अयोध्या के 9 द्वार का जिक्र शास्त्रों में है। जिनके अनुसार, अयोध्या के 9 द्वार बनाए जाने थे पर अभी अयोध्या के प्रवेश के लिए कुल 6 द्वार हैं, जिनमें प्रत्येक पर नागर शैली में निर्माण किया जाएगा। इन द्वारों पर श्रद्धालुओं के रुकने के लिए धर्मशाला व इलेक्ट्रिक वाहन से उन्हें आने के लिए व्यवस्था की जाएगी।

राम मंदिर से मिलते-जुलते होंगे द्वार
अयोध्या विकास प्राधिकरण के सचिव आरती सिंह के अनुसार, अयोध्या का विजन डॉक्यूमेंट अभी तैयार किया जा रहा है। अयोध्या के द्वारों का अभी कोई लेआउट जारी नहीं किया गया है। प्रधानमंत्री के मुहर के बाद ही एक शैली में द्वार बनाए जाएंगे, जो राम मंदिर से मिलते-जुलते होंगे। इसके लिए दिन-रात कार्य जारी है। उन्होंने बताया कि 10- 12 दिन के अंदर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वर्चुअल रूप से इन योजनाओं को देखेंगे। उनकी सहमति के बाद ही इन पर कार्य शुरू होगा।

सीएम की हो चुकी है सहमति, एटीआर 72 विमानों के संचालन के लिए लगभग 100% भूमि उपलब्ध
इससे पहले विकास प्राधिकरण की तरफ से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने विजन डॉक्यूमेंट प्रस्तुत किया जा चुका है। अयोध्या विकास प्राधिकरण की तरफ से रखे गए विजन डॉक्यूमेंट पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सहमति मिल चुकी है। क्रियान्वित की जा रही परियोजनाओं में प्रमुख रूप से राम नगरी में मेन स्पाइन रोड का निर्माण होना, सुग्रीव किला से श्री राम मंदिर मार्ग का निर्माण होना, श्रृंगार हाट से राम मंदिर का मार्ग और पूरे अयोध्या से निकले पंचकोशी परिक्रमा मार्ग को डेवलप करना शामिल है। मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा की शुरुआत को लेकर भी अधिकारियों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से चर्चा की। अधिकारियों ने बताया कि सरकार के पास संपूर्ण मास्टर प्लान की लगभग 77% भूमि और एटीआर 72 विमानों के संचालन के लिए आवश्यक लगभग 100% भूमि उपलब्ध की जा चुकी है। एआई ने रेलवे स्टेशन और टर्मिनल बिल्डिंग के पेज वन का टेंडर भी जारी किया है। पीएम की स्वीकृति के बाद जुलाई के अंत तक टेंडर प्रक्रिया को अंतिम रूप भी दे दिया जाएगा।

प्रवेश द्वार सहित अनेक योजनाएं, कर रही हरि झंडी का इंतजार

  • अयोध्या में प्रमुख रूप से छह भव्य प्रवेश द्वार भी बनाए जाएंगे। लक्ष्मण द्वार गोंडा रोड, भरत द्वार प्रयागराज रोड, जटायु द्वार वाराणसी रोड, हनुमान द्वार गोरखपुर रोड, गरुड़ द्वार रायबरेली रोड तथा श्री राम द्वार लखनऊ रोड पर बनाया जाएगा।
  • स्मार्ट रोड बाईपास से नया घाट तक बनाई जाएगी। सरयू तट डेवलपमेंट अवधारणा रणनीति योजना के तहत सरयू नदी के घाटों और आसपास के क्षेत्रों का सौंदर्यीकरण किया जाएगा। जिन परियोजनाओं पर कार्य चल रहा है, उनमें से अधिकारियों ने बताया कि जलाशयों का संरक्षण और कला परियोजना इंटेलीजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम आईटीएमएस पशु संरक्षण बाहरी रिंग रोड और अन्य सड़क परियोजनाएं सोलर शहर बाल्मीकि रामायण युग वृक्षारोपण एवं नई रोजगार गतिविधियों पर कार्य क्रियान्वित हो चुका है।
  • नगर विकास विभाग ने अमृत योजना में नगर निगम अयोध्या के पुराने फैजाबाद क्षेत्र में सीवरेज नेटवर्क का कार्य, ऑग्मेंटेशन आप 12 एमएलडी अयोध्या टाउनशिप का प्राक्कलन एवं 5 सालों के रख-रखाव समेत संचालन के कार्य पर क्रियान्वयन हो चुका है। राज्य सेक्टर कार्यक्रम के अंतर्गत अयोध्या फैजाबाद नगर की सीवरेज परियोजना में भी गति दी गई है।
खबरें और भी हैं...