• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Ayodhya
  • Professor, School Of Business Studies, Agricultural University, Ludhiana.Ayodhya. Awadha Unversity. Up Government. Panjab University. Pratibha Goyal.

प्रतिभा गोयल बनीं अवध यूनिवर्सिटी की कुलपति:कृषि विश्वविद्यालय लुधियाना के स्कूल आफ बिजनेस स्टडीज की प्रोफेसर हैं

अयोध्या3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अवध विवि की नवनियुक्त कुलपति प्रतिभा गोयल - Dainik Bhaskar
अवध विवि की नवनियुक्त कुलपति प्रतिभा गोयल

उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने स्कूल आफ बिजनेस स्टडीज, कृषि विश्वविद्यालय लुधियाना, पंजाब की प्रोफेसर डाक्टर प्रतिभा गोयल को डॉ राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय अयोध्या का कुलपति नियुक्त किया है। उन्हें 3 वर्षों के लिए राज्यपाल ने इनको नियुक्त किया हैl

अवैध नियुक्ति में हटाए गए थे प्रोफेसर रवि शंकर सिंह

फिलहाल अभी प्रतिभा गोयल ने चार्ज नहीं लिया हैl उन्होंने बताया कि वे बहुत जल्द अयोध्या पहुंचकर कार्यभार ग्रहण करेंगी। फिलहाल स्थाई कुलपति के लिए अविवि गत छह माह से बेचैन हैl विश्वविद्यालय में मनमाने ढंग से नियुक्ति किए जाने के मामले में शिकायत के बाद राज्यपाल आनंदी बेन ने कुलपति प्रोफेसर रवि शंकर सिंह इस्तीफा बुला कर ले लिया था।

100 से अधिक नियुक्तियां और प्रमोशन किए जाने का आरोप था
अवध विश्वविद्यालय के कुलपति रहे प्रोफेसर रवि शंकर सिंह पर अवध विश्वविद्यालय में हुई नियुक्तियों में मनमाना तरीके से 100 से अधिक नियुक्तियां और प्रमोशन किए जाने का आरोप लगा था इसके साथ ही दीपोत्सव के दौरान आयोजन की मिली जिम्मेदारी में भी भ्रष्टाचार करने का आरोप लगा थाl इस आरोप के बाद मिले साक्ष्यों के आधार पर गुप्त रूप से जांच भी की जा रही थी लेकिन इसी बीच महामहिम राज्यपाल आनंदीबेन ने उनसे इस्तीफा ले लिया था।

प्रो0 रवि शंकर काशी हिंदू यूनिवर्सिटी में जियोलॉजी के प्रोफेसर रहे
अवध विश्वविद्यालय के कुलपति रहे डॉ मनोज दीक्षित के कार्यकाल पूरा किए जाने के बाद प्रो0 रविशंकर सिंह को दायित्व मिली थी। प्रो0 रवि शंकर काशी हिंदू यूनिवर्सिटी में जियोलॉजी के प्रोफेसर रहे हैं। यहीं से डेपुटेशन पर अवध विश्वविद्यालय के कुलपति बनाये गए। लेकिन अवैध नियुक्तियों की टीम में वाराणसी के एजेंट सक्रिय रहे। इस बात को लेकर विश्वविद्यालय परिसर में असंतोष था। रविशंकर की करीबी लोग पूरे अवध विश्वविद्यालय में सक्रियता बनी हुई थी।

खबरें और भी हैं...