अयोध्या में फुटकर विक्रेताओं की मनमानी:थोक मंडी में सब्जियां सस्ती पर फुटकर दुकानदार बेच रहें महंगी

अयोध्या3 महीने पहले
अयोध्या में फुटकर सब्जी विक्रेताओं की मनमानी

अयोध्या में सब्जियां दिन प्रतिदिन महंगी होती जा रही है। लेकिन थोक मंडी में सब्जियां सस्ती है। इसकी मुख्य वजह फुटकर विक्रेताओं की मनमानी है। इससे लोगों को परेशान कर दिया है। किसानों को भी उपज का सही मूल्य भी नहीं मिल रहा है। जिले भर में हो रही इस लूट पर प्रशासन के जिम्मेदार अधिकारी खामोश हैं।

फुटकर उपभोक्ता तीन गुना महंगी बेच रहे सब्जियां

सब्जियों का अधिक उत्पादन होने के कारण इधर लगभग 10 दिन से सब्जियों के दाम में काफी गिरावट आ गयी है। स्थिति यह है कि लौकी व तोरई की कीमत मंडी में पांच रूपए किलो तक है, लेकिन फुटकर दुकानदार व ठेले वाले लौकी व तोरई को 20 से 25 रुपए प्रति किलो के भाव बेच रहे हैं। इसी प्रकार कटहल मण्डी में 18 रुपए किलो की दर से बिक रहा है। जबकि फुटकर दुकानदार 25 रुपए प्रति किलो में बेच रहे हैं। इसी प्रकार भिंडी

मंडी में 10 रुपए व फुटकर में 20 से 25 रुपए प्रति किलो, करेला मण्डी में 10 रुपए तो फुटकर में 20 से 25 रुपए किलो, आलू मण्डी में 15 रुपए तो फुटकर में 20 से 25 रुपए किलो के भाव बिक रही है। टमाटर मंडी में 35 रुपए प्रति किलो तो फुटकर में 50 से 60 रुपए प्रति किलो, प्याज मण्डी में 11 रुपए तो फुटकर में 22 से 25 रुपए किलो, घुईया मण्डी में 25 रुपए किलो तो फुटकर में 50से 60 रुपए प्रति किलो, हरी मिर्च मण्डी में 25 से 26 रुपए, लोबिया मण्डी में 11 रुपए व फुटकर में 20 से 30 रुपए प्रति किलो, बंद गोभी मण्डी में 22 रुपए तो फुटकर बाजार में 50 रुपए प्रति किलो के भाव बिक रही है।

दुकानदारों की मनमानी पर अंकुश लगाने में प्रशासन नाकाम

दुकानदारों की मनमानी पर प्रशासन का कोई अंकुश नहीं है। फुटकर दुकानदारों पर रोक कौन लगाएगा, इस सम्बन्ध प्रशासन के अधिकारी कोई जिम्मेदारी नहीं लेना चाहते हैं। यहां तो यह भी तय नहीं है कि कौन अधिकारी सब्जी बाजार पर नियंत्रण करेगा यह भी कोई बताने को तैयार नहीं है। डीएसओ अभिनव सिंह से जब इस सम्बन्ध में जानकारी करने की कोशिश की गई तो उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया। फिलहाल प्रशासन की अनदेखी महंगाई की मार झेल रहे उपभोक्ताओं को महंगी साबित हो रही है।

दुकानदार बाले-

थोक मंडी से तीन गुना दाम में सब्जियों को बेचने के बारे में दुकानदार से बता की गई तो दुकानदारों ने बताया जगदीश गुप्ता मंडी से दुकान तक सब्जियों के लाने में भाड़ा, नगर निगम वाले भी वसूली करते हैं। हरि सब्जियों के सूखने और दिहाड़ी को देखते हो सब्जियों के दामों में बढ़ोतरी करनी पड़ रही है।

खबरें और भी हैं...