भाजपा विजय संकल्प: आरएसएस 75 करोड़ से कराएगा सूर्य नमस्कार:विस चुनाव में आरएसएस देगी हिंदुत्व को धार,मकर संक्रांति से रथ सप्तमी तक चलेगा अभियान

अयोध्या4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
यूपी सहित देश के पांच राज्यों के विस चुनाव के दौरान 75 करोड़ लोगों को सूर्य नमस्कार के जरिए जोड़ने का लक्ष्य - Dainik Bhaskar
यूपी सहित देश के पांच राज्यों के विस चुनाव के दौरान 75 करोड़ लोगों को सूर्य नमस्कार के जरिए जोड़ने का लक्ष्य

पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ भाजपा के विजय संकल्प को लेकर मैदान में उतर आई हैl मकर संक्रांति यानी 14 जनवरी से लेकर रथ सप्तमी अर्थात सात फरवरी तक पूरे देश में सूर्य नमस्कार का आयोजन करेगी। समान विचारधारा वाले संगठनों के साथ मिल कर 75 करोड़ सूर्य नमस्कार कराने की योजना तैयारी है। अयोध्या के कारसेवकपुरम में इस संबंध में कई चरणों में बैठक हो चुकी हैl

सूर्य नमस्कार करते अवध यूनिवर्सिटी के कुलपति रवि शंकर सिंह
सूर्य नमस्कार करते अवध यूनिवर्सिटी के कुलपति रवि शंकर सिंह

खेल जगत का संगठन क्रीड़ा भारती मुख्य भूमिका में

इस अभियान को धरती पर उतारने में योग गुरु बाबा रामदेव का संगठन पतंजलि योग पीठ और आरएसएस के खेल जगत का संगठन क्रीड़ा भारती मुख्य भूमिका में है। इस अभियान के लिए स्वयं आरएसएस के महासचिव (सर कार्यवाह) दत्तात्रेय होस बोले ने लेटर जारी कर आयोजन को सफल बनाने का आह्वान संगठन के पदाधिकारियों से किया था।

सामूहिक और एकल दोनों तरह से सूर्य नमस्कार का संकल्प

उन्होंने निर्देशित किया है कि विद्या भारती,आरोग्य भारती,विद्यार्थी परिषद,बजरंग दल,वनवासी कल्याण आश्रम के माध्यम से विद्यालयों,छात्रावासों,योग केंद्र, क्रीड़ा संकुल में लोगों को मकर संक्रांति से लेकर रथ सप्तमी तक नियमित एक निर्धारित समय पर सूर्य नमस्कार का संकल्प दिलाया जा रहा है। सामूहिक और एकल दोनों तरह से सूर्य नमस्कार का संकल्प कराया जाना है।

आन लाइन भागीदारी की भी योजना संभावित
सूर्य नमस्कार के माध्यम से संघ की पहुंच और बढ़ाने की योजना के लिए इन संगठनों की कई जिला, महानगर और छोटी इकाइयों की बैठक और पतंजलि योग पीठ से समन्वय की प्रक्रिया अंतिम चरण में है। हालांकि कोविड के प्रकोप बढ़ने से यह अभियान एकल सूर्य नमस्कार तक सीमित भी किया जा सकता है। योग दिवस की भांति आन लाइन भागीदारी की भी योजना संभावित है।

खबरें और भी हैं...