• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Ayodhya
  • Saint Mahant And Ayodhya Residents Will Pay Tribute On Ram's Foot, Ashes Will Be Immersed At Pakka Ghat, Jagadguru Paramhansacharya Started Saryu Worship For The Peace Of Soul

कल्याण सिंह की अस्थियां सरयू में विसर्जित:बेटे राजवीर सिंह अस्थि कलश लेकर अयोध्या पहुंचे, बोले- बाबूजी अपने अंतिम समय में भी राम मंदिर की बातें करते थे

अयोध्या2 महीने पहले

पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की अस्थियां आज अयोध्या में सरयू नदी में विसर्जित की गईं। अस्थि कलश लेकर उनके बेटे पूर्व सांसद राजवीर सिंह अयोध्या पहुंचे थे। इस मौके पर संतों ने जय श्रीराम का जयघोष कर पूर्व सीएम को नमन किया। यहां राम की पैड़ी पर श्रद्धांजलि देने के लिए पंडाल बनाया गया था। जहां कुछ देर अस्थि कलश रखा गया। यहां अयोध्यावासियों और संत-महंतों ने पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। बीते 21 अगस्त को लंबी बीमारी के बाद कल्याण सिंह का निधन हो गया था।

राजवीर पिता की अंतिम बातों को याद कर भावुक हुए

राजवीर सिंह ने कहा, बाबूजी बीमारी की अवस्था में भी कहते थे कि हम राम मंदिर से होकर आ रहे हैं। उसका मतलब है कि राम मंदिर दर्शन करने आत्म शरीर से आते थे, वह आज भी अपने आसपास के साथ अयोध्या आए हैं और वे अयोध्या में रमे हुए हैं।

पूर्व सांसद ने कहा, खुशी की बड़ी बात है कि आज बाबूजी की अस्थियां अयोध्या की सरयू नदी में विसर्जित हुई हैं। राम जन्मभूमि पर भव्य राम मंदिर निर्माण की शुरुआत हो चुकी है, यही बाबूजी का सपना भी था। हम पूरे परिवार के साथ अयोध्या आए हैं और पूरा परिवार बाबूजी के मार्गदर्शन में अपने आपको गौरवान्वित महसूस कर रहा है। आगे भी बाबूजी के हर सपने को पूरा करने का हर संभव हम परिवार वाले करते रहेंगे।

अस्थि कलश लेकर सरयू की तरफ जाते राजवीर सिंह7
अस्थि कलश लेकर सरयू की तरफ जाते राजवीर सिंह7

महापौर ऋषिकेश उपाध्याय ने पूर्व सीएम कल्याण सिंह को याद करते हुए कहा, मन बहुत ही दुखी है पर शरीर नश्वर है। कल्याण सिंह ने अयोध्या के लिए, श्रीरामजी के लिए जो कर दिया है, उसको लेकर वे अमर रहेंगे।

अस्थि विसर्जन कार्यक्रम में उमड़े लोग।
अस्थि विसर्जन कार्यक्रम में उमड़े लोग।

स्वामी राजकुमार दास बोले- अयोध्या हमेशा के लिए कल्याण की ऋणी

श्रीरामवल्लभाकुंज के प्रमुख स्वामी राजकुमार दास ने कहा कि अयोध्या हमेशा के लिए कल्याण सिंह की ऋणी हो चुकी है। जब भी राममंदिर निर्माण की बात करते हैं तो वे सहज ही याद आ जाते हैं। भगवान श्रीराम उन्हें अपने श्रीचरणों में स्थान दें,ऐसा अयोध्या के हम सभी संत प्रार्थना करते हैंl

अस्थि विसर्जन कार्यक्रम में संत-महंत शामिल हुए।
अस्थि विसर्जन कार्यक्रम में संत-महंत शामिल हुए।

आत्मा की शांति के लिए सरयू का पूजन कर रहे परमहंसाचार्य

तपस्वी छावनी के पीठाधीश्वर परमहंसाचार्य।
तपस्वी छावनी के पीठाधीश्वर परमहंसाचार्य।

तपस्वी छावनी के पीठाधीश्वर परमहंसाचार्य ने सरयू पूजन कर कल्याण सिंह की आत्मा की शांति के लिए पूजा-पाठ किया।उन्होंने कल्याण सिंह को हिंदुत्व का महान नेता बताया। उन्होंने बताया कि आज सुबह पांच बजे से वे कल्याण सिंह की आत्मा की शांति के लिए पावन सलिला मां सरयू से निरंतर प्रार्थना कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि कल्याण सिंह ने रामकाज के लिए खुद को समर्पित कर दिया। हम सभी रामभक्तों को मां सरयू व भगवान राम से कल्याण सिंह को साकेतधाम में स्थान देने की प्रार्थना करनी चाहिए।

खबरें और भी हैं...