आजमगढ़ के 18 लाख मतदाता तय करेंगे अपना सुल्तान:बूथों की निगरानी के लिए लगाई गई पैरामिलिट्री, 15 जोनल 137 सेक्टर मजिस्ट्रेट रखेंगे नजर

आजमगढ़5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आजमगढ़ लोकसभा का उपचुनाव आज, मतदाता तय करेंगे कौन बनेगा सुलतान। - Dainik Bhaskar
आजमगढ़ लोकसभा का उपचुनाव आज, मतदाता तय करेंगे कौन बनेगा सुलतान।

आजमगढ़ जिले में 23 जून को होने वाले चुनाव की तैयारियां पूरी कर ली गई है। जिले के 18 लाख 38 हजार से अधिक मतदाता अपना सुल्तान तय करेंगे। जिले में अखिलेश यादव के इस्तीफे के बाद हो रहे उपचुनाव के लिए जहां भाजपा ने भोजपुरी सुपरस्टार दिनेश लाल यादव निरहुआ को मैदान में उतारा है, वहीं सपा ने सैफई परिवार के धर्मेन्द्र यादव को चुनाव मैदान में उतरा है। बसपा ने शाह आलम उर्फ गुड्‌डू जमाली पर अपना दांव लगाया है। 23 जून को होने वाले मतदान में जिले के मतदाता अपना प्रतिनिधि चुनेंगे। आजमगढ़ और रामपुर में हो रहे उपचुनाव को लेकर पूरे प्रदेश की निगाहें आजमगढ़ पर लगी हुई हैं। जिला प्रशासन से उपचुनाव को देखते हुए 2176 पोलिंग बूथ पांच विधानसभा क्षेत्रों में बनाए हैं। इस विधानसभा क्षेत्रों में सदर, सगड़ी, मुबारकपुर, गोपालपुर और मेंहनगर है।

वेब कैमरे से रखी जाएगी नजर
जिले के निर्वाचन अधिकारी विशाल भारद्वाज ने बताया कि जिले में होने वाले उपचुनाव को लेकर वेब कैमरे के माध्यम से बूथों पर नजर रखी जाएगी। उपचुनाव के लिए 2176 बूथ बनाए गए हैं। इनमें 1633 बूथों पर वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गई है। जबकि 385 बूथों पर वेब कैमरा लगाया गया है 245 बूथों पर माइक्रो आब्जर्वर तैनात किए गए हैं।

पैरामिलिट्री के साथ पुलिस बल तैनात
जिले में होने वाले मतदान के लिए यदि सुरक्षा व्यवस्था की बात की जाय तो जिले के एसपी अनुराग आर्य का कहना है कि प्रत्येक बूथ पर पैरामिलिट्री के साथ ही पुलिस बल को भी तैनात किया गया है। थाने पर आठ क्लस्टर मोबाइल टीमें लगाई गई हैं। एक मोबाइल टीम 8 से 10 मतदान केंद्रों को कवर करेंगे। जिला प्रशासन जिले में शांतिपूर्वक मतदान कराएगा इसके साथ ही अराजक तत्वों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

भाजपा और सपा की प्रतिष्ठा दांव पर
आजमगढ़ जिले में हो रहे उपचुनाव में भाजपा जहां अपनी डबल इंजन सरकार की उपलब्धियों को लेकर आशान्वित है और जनता के लिए सरकार द्वारा चलाई गई योजनाओं के दम पर विश्वास है। वहीं सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव अपनी सीट पर जीत को लेकर आशान्वित हैं। यही कारण है कि जिले में चुनाव करना भी उचित नहीं समझा। वहीं बसपा प्रत्याशी शाह आलम उर्फ गुड्‌डू जमाली को जिले में अपनी सक्रियता पर पूरा भरोसा है कि मतदाता हमारे साथ हैं। अब ऐसे में जनता के किसके नाम पर जीत की मुहर लगाती है, यह तो 26 जून को ही पता चलेगा।

18 लाख से अधिक मतदाता तय करेंगे भाग्य
आजमगढ़ जिले में होने वाले लोकसभा उपचुनाव में यदि मतदाताओं की संख्या की बात की जाय तो यह संख्या 18 लाख से अधिक है। जिले में 18 लाख 38 हजार, 930 मतदाता हैं। इनमें नौ लाख, 70 हजार, 935 पुरूष, आठ लाख, 67 हजार, 968 महिला और 27 मतदाता थर्ड जेंडर हैं।

खबरें और भी हैं...