आजमगढ़ में 57 प्रत्याशियों ने किया नामांकन:जिले के 29 प्रत्याशियों ने खरीदा 39 सेट पर्चे, अंतिम दिन कल लेकिन मेंहनगर सीट से नहीं घोषित हुआ प्रत्याशी

आजमगढ़6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आजमगढ़ जिले में विधानसभा चुनाव के लिए हो रहे नामांकन में अपना नामांकन करते प्रत्याशी। - Dainik Bhaskar
आजमगढ़ जिले में विधानसभा चुनाव के लिए हो रहे नामांकन में अपना नामांकन करते प्रत्याशी।

आजमगढ़ जिले में विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर चौथे दिन 57 प्रत्याशियों ने नामांकन किया है। इसके साथ ही 29 प्रत्याशियों ने 39 नामांकन पत्र भी खरीदा है। नामांकन का अंतिम दिन 17 फरवरी को है। ऐसे में जिले के बचे हुए प्रत्याशी कल अपना नामांकन करेंगे। जिले में भले ही नामांकन का अंतिम दिन कल है पर मेंहनगर विधानसभा सीट से अभी तक प्रत्याशी के नाम की घोषणा नहीं हुई है।

नामांकन करने वालों में बसपा, कांग्रेस और एआईएमआईएम के प्रत्याशी शामिल रहे। नामांकन करने वाले प्रमुख लोगों में जिले की मुबारकपुर विधानसभा प्रत्याशी शाह आलम गुड्‌डू जमाली, सपा प्रत्याशी अखिलेश यादव, सगड़ी से डा. एचएन पटेल, कांग्रेस प्रवीण सिंह, सपा के बेंचई सरोज, बसपा प्रत्याशी डॉ. सरोज पांडेय, भाजपा के अरविंद जायसवाल व जिले की दीदारगंज विधानसभा से उलेमा काउंसिल के प्रत्याशी हुजैफा रशादी प्रमुख रहे।

आजमगढ़ जिले की दीदारगंज विधानसभा से उलेमा काउंसिल के हुजैफा रशादी ने संविधान की पुस्तक लेकर किया नामांकन, जिले के सबसे कम उम्र के प्रत्याशी।
आजमगढ़ जिले की दीदारगंज विधानसभा से उलेमा काउंसिल के हुजैफा रशादी ने संविधान की पुस्तक लेकर किया नामांकन, जिले के सबसे कम उम्र के प्रत्याशी।

उलेमा काउंसिल से हुजैफा आमिर मैदान में

जिले की दीदारगंज विधानसभा से उलेमा काउंसिल ने हुजैफा आमिर रशादी को अपना प्रत्याशी बनाया है। हुजैफा आमिर अपने प्रस्तावकों के साथ संविधान की कापी लेकर अपना नामांकन किया। इस बारे में हुजैफा आमिर का कहना है कि संविधान बचाने का संघर्ष है। संविधान को बचाने के लिए संवैधानिक संस्थाओं का हिस्सा बनने पड़ेगा और इसके लिए सदन में जाना होगा, जहां से इसकी रक्षा हो सके। अलीगढ़ विश्विवद्यालय में पढ़ने वाले हुजैफा जिले में सबसे कम उम्र के प्रत्याशी हैं।

सभी प्रत्याशी कर रहे जीत का दावा

नामांकन करने आने वाले सभी प्रत्याशी अपनी-अपनी जीत का दावा करते नजर आ रहे हैं। जिले की 10 विधानसभा सीटों पर सातवें चरण में सात मार्च को मतदान होना है। जिले की सभी सीटों पर प्रत्याशियों के नाम की घोषणा भी हो चुकी है। जिले की एक मात्र मेंहनगर सीट पर सपा गठबंधन ने अभी तक अपना प्रत्याशी नहीं उतारा है। ऐसे में अभी तक इस सीट पर असमंजस बना हुआ है।

सुभाषपा गठबंधन के पाले में गई इस सीट से सपा के तीन पूर्व विधायकों ने भी अपना नामांकन किया है। मगर, पार्टी ने अधिकृत रूप से किसी की भी अभी तक घोषणा नहीं की है।

खबरें और भी हैं...