आजमगढ़ जेल पहुंचे अखिलेश यादव:सपा कार्यकर्ताओं से मिले, बोले- इंसाफ की लड़ाई के लिए जाना पड़ता है जेल

आजमगढ़5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आजमगढ़ जेल में बंद सपा कार्यकर्ताओं से मिलकर बाहर आते सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव। - Dainik Bhaskar
आजमगढ़ जेल में बंद सपा कार्यकर्ताओं से मिलकर बाहर आते सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव।

आजमगढ़ जिले के दौरे पर आए सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने जेल में बंद सपा कार्यकर्ताओं से भी मुलाकात की। विधानसभा चुनाव से पूर्व ईवीएम की रखवाली को लेकर हुए बवाल में जिला प्रशासन ने कई आरोपियों को जेल भेजा है। इसके साथ ही चुनाव के दिन सात मार्च को सरफुद्दीनपुर में भाजपा व सपा कार्यकर्ताओं के बीच विवाद हुआ था। इन दोनों मामलों में आजमगढ़ की जेल में 12 आरोपी बंद हैं। इन आरोपियों में तीन ईवीएम तोड़फोड़ के आरोपी हैं तो नौ सरफुद्दीनपुर मामले के आरोपी हैं। सपा सुप्रीमो ने सभी से मुलाकात कराने का प्रार्थना-पत्र भिजवाया था, पर अखिलेश यादव ने मनोज यादव से मुलाकात की।

इंसाफ की लड़ाई के लिए जाना पड़ता है जेल
सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने जेल में सपा कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर कहा कि इंसाफ की लड़ाई के लिए जेल जाना पड़ता है। देश की आजादी के लिए अनेक लोगों को जेल जाना पड़ा। नेताजी को भी जेल जाना पड़ा। इससे डरने की जरूरत नहीं है। सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव का कहना है कि बड़ी लड़ाई के लिए संघर्ष करना पड़ता है। शासक जुर्म करेगा उसके खिलाफ लड़ाई लड़ते जेल जाना पड़े तो घबराना नहीं चाहिए। सपा के इस प्रतिनिधिमंडल में सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव के साथ पूर्व मंत्री दुर्गा प्रसाद यादव, सपा जिलाध्यक्ष हवलदार यादव, विधायक संग्राम यादव, नफीस अहमद, बेंचाई सरोज सहित बड़ी संख्या में पार्टी के पदाधिकारी उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...