आजमगढ़ में बोले बसपा प्रत्याशी गुड्‌डू जमाली:अपनी बातों को जनता के बीच पहुंचाने में नाकाम रहे, जनता को दिया धन्यवाद, जमाली बोले आजमगढ़ मेरी मदरलैंड

आजमगढ़5 महीने पहले
आजमगढ़ लोकसभा उपचुनाव में हार पर बोले गुड्‌डू जमाली, जनता के बीच अपनी बातों को पहुंचाने में रहे नाकाम

आजमगढ़ लोकसभा उपचुनाव में बसपा के प्रत्याशी रहे शाह आलम उर्फ गुड्‌डू जमाली दो लाख 66 हजार 210 मत पाकर चुनाव हार गए। आजमगढ़ उपचुनाव में सपा ने धर्मेन्द्र यादव को अपना प्रत्याशी बनाया था जबकि भाजपा ने भोजपुरी सुपरस्टार दिनेश लाल यादव निरहुआ को अपना प्रत्याशी बनाया था। इस उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी दिनेश लाल यादव निरहुआ की जीत हुई। बसपा प्रत्याशी शाह आलम उर्फ गुड्‌डू जमाली का कहना है कि हम चुनाव जीतने के लिए लड़ रहे थे और जनता ने हमें अच्छा खासा समर्थन भी दिया। इसके बाद भी हमें लगता है कि हम अपनी बातों को जनता तक पहुंचाने में नाकाम रहे। यदि सपा न होती तो हमारी जीत सुनिश्चित थी। बसपा प्रत्याशी का कहना है कि निश्चित रूप से आने वाले 2024 के लोकसभा चुनाव में एक बार फिर से मैदान में आएंगे। हमें पूरा भरोसा है कि जनता का समर्थन हमें मिलेगा।

आजमगढ़ में मतगणना स्थल से बाहर निकलते बसपा प्रत्याशी शाह आलम उर्फ गुड्‌डू जमाली।
आजमगढ़ में मतगणना स्थल से बाहर निकलते बसपा प्रत्याशी शाह आलम उर्फ गुड्‌डू जमाली।

आजमगढ़ मेरी मदरलैंड
सपा पर तंज कसते हुए शाह आलम उर्फ गुड्‌डू जमाली का कहना है कि सपा का यहां पर क्या है। आजमगढ़ हमारी मदरलैंड है। सपा का यहां पर कुछ भी नहीं है। धर्मेन्द्र यादव द्वारा बसपा को भाजपा की बी टीम कहे जाने के सवाल पर गुड्‌डू जमाली का कहना है कि कहने को कोई कुछ भी कहे उससे कोई फर्क नहीं पड़ता है। मेरा संगठन और हमारे लोगों ने जी जान से चुनाव लड़ा। मैं खुद 10 से 15 किलोमीटर रोज पैदल चलता था और जनता ने जो प्यार और सम्मान दिया उसका शुक्रगुजार हूं। ऐसा लगता है कि हमारे प्रयासों में कहीं कमी रह गई और अपनी बात हम जनता तक नहीं पहुंचा पाए। 2024 के चुनाव में फिर मैदान में आएंगे।