आजमगढ़ कमिश्नर ने की मंडलीय समीक्षा:अधिकारियों को दिए अवैध वाहनों के संचालन पर रोक लगाने के निर्देश, सीएनजी किट का मानक पूरा कराएं अधिकारी

आजमगढ़3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आजमगढ़ मंडल के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करते कमिश्नर विजय विश्वास पंत। - Dainik Bhaskar
आजमगढ़ मंडल के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करते कमिश्नर विजय विश्वास पंत।

आजमगढ़ मंडल के कमिश्नर विजय विश्वास पंत ने आजमगढ़, मऊ और बलिया के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। कमिश्नर विजय विश्वास पंत ने परिवहन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया कि मण्डल के जनपदों में अवैध वाहनों के संचालन पर सख्ती रोक लागाई जाये। किसी भी दशा में अवैध वाहनों का संचालन नहीं होना चाहिए। कमिश्नर ने कहा कि बिना नम्बर प्लेट की गाड़ियां भी सड़कों पर संचालित पाई जाती हैं तथा हाई सिक्योरिट नम्बर प्लेट्स भी बहुत कम वाहनों पर लगे हुए पाये जाते हैं। यह स्थिति अत्यन्त आपत्तिजनक है। अभियान चलाकर इस प्रकार के वाहन के विरुद्ध कार्यवाही करने का निर्देश दिया। बैठक में संभागीय परिवहन अधिकारी द्वारा जनपद आज़मगढ़ में दो एवं बलिया में एक सीएनजी किट लगाने हेतु प्रस्ताव प्रस्तुत किया गया, जिसपर पहले सुरक्षा के सभी मानकों को पूरा होने का निर्देश दिया।

अवैध रूप से चलने वाले टेम्पो पर लगे रोक
कमिश्नर विजय विश्वास पंत ने कहा कि जिलों में अवैध रूप से डीजल से चलने वाले अवैध आटो रिक्शा पर भी सख्ती से रोक लगाई जाय। परिवहन विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि पेट्रोल पम्पों के माध्यम से तथा जिला पूति अधिकारी से इस सम्बन्ध में रिपोर्ट प्राप्त करें। शासन के निर्देशानुसार डीजल चालित किसी आटो रिक्श को अब न तो नया परमिट दिया जाना है और न ही परमिट की अवधि बढ़ाई जानी है, इसलिए जिन डीजल चालित आटो रिक्शा की परमिट अवधि समाप्त हो चुकी है उसे सख्ती से बन्द करायें। डीएम आज़मगढ़ विशाल भारद्वाज ने कहा कि आटो रिक्शा, ई-रिक्शा आदि द्वारा अव्यवस्थित ढंग से सवारियों को बैठाने और उतारने के कारण प्रायः जाम लग जाता है, जिससे लोगों को अनावश्यक रूप से परेशानी उठानी पड़ती है। इस सम्बन्ध में अधिशासी अधिकारी, नगर पालिका परिषद आज़मगढ़ को निर्देशित किया कि शहर के अन्दर जो भी वाहन स्टैण्ड बने हैं, वहां तत्काल व्यवस्थायें सुदृढ़ कराते हुए वाहनों का वहीं से संचालन सुनिश्चित करायें।