आजमगढ़ में भगवान की शरण में कांग्रेस:21 ब्राह्मणों ने किया शंखनाद, कांग्रेसी बोले- प्रदेश में चल रही बदलाव की हवा

आजमगढ़7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आजमगढ़ में बड़ा गणेश मंदिर से कांग्रेस ने चुनावी शंखनाद किया। - Dainik Bhaskar
आजमगढ़ में बड़ा गणेश मंदिर से कांग्रेस ने चुनावी शंखनाद किया।

विधानसभा चुनाव 2022 को देखते हुए आजमगढ़ जिला कांग्रेस भगवान की शरण में पहुंच गई है। जिले के बड़ा गणेश मंदिर से कांग्रेस ने चुनावी शंखनाद किया है। कांग्रेस जिलाध्यक्ष प्रवीण सिंह ने कहा कि 40 वर्ष से जिले की जनता का समय बर्बाद करने वाले विधायक के खिलाफ इस बार कांग्रेस ने शंखनाद कर दिया है। जिलाध्यक्ष ने गणपति के चरणों में आरती करते हुए चौक स्थित दक्षिण मुखी देवी का भी दर्शन और पूजन किया। इस अवसर पर 21 ब्राह्मणों ने स्वाभिमान और परिवर्तन का शंखनाद करते हुए शंख बजाकर कांग्रेस को आशीर्वाद दिया।

प्रदेश में चल रही बदलाव की हवा
कांग्रेस जिलाध्यक्ष का कहना है कि प्रदेश में बदलाव की हवा चल रही है। इस बार 10 मार्च को बदलाव दिखेगा। बदलाव की इस हवा में लोगों का भरपूर समर्थन मिल रहा है। लोग कांग्रेस की तरफ आशा भरी नजरों से देख रहे हैं। इस दौरान मेंहनगर विधानसभा से कांग्रेस का टिकट पाने वाली निर्मला भारती भी मौजूद रहीं।

जिले में माहौल बनाने की कोशिश में कांग्रेस
कांग्रेस ने जिस तरह से चुनावी अभियान की शुरुआत की है, उससे जिले में एक माहौल बनाने की कोशिश की जा रही है। 2017 के विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी से गठबंधन के बाद कांग्रेस का बहुत नुकसान हुआ। 2019 के लोकसभा चुनाव में भी कांग्रेस न्यूट्रल ही रही।

अब देखना यह होगा कि इस बार कांग्रेस जिले की विधानसभा सीटों पर कितनी मजबूती के साथ लड़ती है और जनता को अपने पक्ष में किन मु्द्दों के बल पर करती है। जिले में कांग्रेस की बात यदि की जाए तो विगत 90 के दशक के बाद इस जिले से कांग्रेस का सफाया हो गया और आज भी जिले में अपना वजूद तलाश रही है।