आजमगढ़ में पुलिस व बदमाशों के बीच मुठभेड़:शूटर के पैर में लगी गोली, अस्पताल में कराया गया भर्ती, टीम को 15 हजार का पुरस्कार

आजमगढ़12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आजमगढ़ में बदमाशों से पुलिस की मुठभेड़ में शूटर गोलू हुआ गिरफ्तार, अस्पताल ले जाती पुलिस। - Dainik Bhaskar
आजमगढ़ में बदमाशों से पुलिस की मुठभेड़ में शूटर गोलू हुआ गिरफ्तार, अस्पताल ले जाती पुलिस।

आजमगढ़ जिले की एसओजी व गंभीरपुर थाना पुलिस के संयुक्त कार्रवाई में हत्या करने आए शूटर योगेश सिंह उर्फ गोली व उसके साथी पंकज मिश्र को मुठभेड़ में गिरफ्तार कर लिया गया है। गिरफ्तार शूटर हत्या के मुकदमें में वादी व गवाह की हत्या की साजिश रच रहे थे। पुलिस व बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ में शूटर के पैर में गोली लगी, जिसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां इलाज चल रहा है। SP अनुराग आर्य ने पुलिस की संयुक्त टीम को 15 हजार के नगद पुरस्कार की घोषणा की गई है।

यह बोले SP
पुलिस व बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ के बारे में जिले के SP अनुराग आर्य ने बताया कि जनवरी माह में गंभीरपुर थाना के अमौड़ा गांव के प्रधान मनीष राय की हत्या की गई थी। जिसमें विवेचना में तथ्य में प्रकाश में आया कि हत्या की साजिश में अनुज राय, दीपक राय, छवि राय पंकज मिश्रा और जौनपुर के केराकत का निवासी शूटर योगेश सिंह उर्फ गोलू शामिल थे। मामले में पुलिस को सूचना मिली कि पंकज मिश्रा और शूटर गोलू मुकदमे के वादी और गवाह की हत्या की फिराक में घूम रहे हैं। पुलिस टीम की सुबह धरपकड़ शुरु हुई तो पांच बजे मुठभेड़ शुरू हो गई। जिसमें गोलू के पैर में गोली लगी। गोलू और पंकज मिश्रा को गिरफ्तार किया गया। दोनों के कब्जे से एक एक तमंचा कारतूस और मोबाइल बरामद किया गया है।

साजिश में पांच लोग शामिल

SP अनुराग आर्य ने बताया कि इस साजिश में पांच लोग शामिल हैं। जिनमें दो को गिरफ्तार कर लिया गया जबकि एक अभियुक्त जेल में है। दो लोग अभी फरार चल रहे हैं, इन्हें भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।