आजमगढ़ पूर्व विधायक सर्वेश सिंह हत्याकांड का फैसला टला:17 मई को सुनाई जा सकती है सजा, नौ साल पहले गोली मारकर हुई थी हत्या

आजमगढ़3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सर्वेश सिंह सीपू हत्याकांड के आरोपी। - Dainik Bhaskar
सर्वेश सिंह सीपू हत्याकांड के आरोपी।

आजमगढ़ जिले की सगड़ी से पूर्व विधायक सर्वेश सिंह सीपू हत्याकांड का फैंसला टल गया है। 10 मई को गैंगस्टर कोर्ट के जज रामानंद ने पूर्व विधायक हत्याकांड में यूपी के टॉप टेन माफिया ध्रुव कुमार सिंह उर्फ कुंटू सहित नौ आरोपियों को मामले में दोषी पाया था। इस मामले में अभी तक दो आरोपी फरार चल रहे हैं। ऐसे में न्यायालय अब इस मामले में 17 मई को फैसला सुना सकती है।

मामले में सीबीआई ने जांच में 12 आरोपियों को दोषी पाया जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई। मामले में आरोपित ध्रुव कुमार सिंह उर्फ कुंटू कासगंज जेल में बंद है। ध्रुव कुमार सिंह उर्फ कुंटू सिंह की गिनती यूपी के टॉप टेन अपराधियों में होती है।

ठेकेदार डमरू सिंह हत्याकांड में हुई है 10 वर्ष की सजा
यूपी के टॉप टेन गैंगस्टर ध्रुव कुमार सिंह उर्फ कुंटू सिंह को 31 मार्च को ठेकेदार डमरू सिंह की हत्या के मामले में 10 वर्ष की सजा सुनाई है। ठेकेदार डमरू सिंह की 2010 में गोली मारकर हत्या हुई थी। पहली बार माफिया ध्रुव कुमार सिंह उर्फ कुंटू के मामले में अपराध के आरोप सिद्ध करते हुए कोर्ट ने सजा सुनाई।

माफिया ध्रुव D-11 गैंग चलाता है। उसको सजा गैंगस्टर एक्ट के तहत न्यायाधीश रामानंद की कोर्ट में सुनाई गई थी। जुर्माना न भरने पर एक साल की अतिरिक्त सश्रम कारावास की सजा मिलेगी। माफिया कुंटू सिंह कासगंज की जेल में बंद है। उसकी पेशी वीडियो कॉन्फ्रेसिंग से हुई थी।

कुंटू पर दर्ज हैं 75 आपराधिक मामले
अभियोजन पक्ष के वकील संजय द्विवेदी ने बताया कि गैंग लीडर कुंटू सिंह पर 75 आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। इसके अलावा अन्य आरोपियों का भी आपराधिक इतिहास रहा है। डीएम की तरफ से इन सभी के खिलाफ अवैध तरीके से अर्जित की गई संपत्तियों पर हुई कार्रवाई का भी कोर्ट ने अवलोकन में लिया था।

पूर्व विधायक सर्वेश सिंह की दिनदहाड़े की थी हत्या
कुंटु सिंह अपराधी गिरोह D-11का मुखिया है। यह गिरोह रंगदारी फिरौती हत्या जैसे संगीन मामलों में लिप्त रहता है। पूर्व विधायक सर्वेश सिंह उर्फ सीपू सिंह कि 19 जुलाई 2013 में दिनदहाड़े हत्या कर दी गई थी, जिसमें कुंटू सिंह का नाम आया था। कुंटू सिंह को लखनऊ में हुए ब्लॉक प्रमुख अजीत सिंह हत्याकांड का मास्टरमाइंड बताया जाता है। अब तक प्रशासन ने कुंटू सिंह की करीब 14 करोड़ रुपए की संपत्ति को जब्त कर चुका है।

फरार पांच आरोपियों पर 25 हजार का इनाम
जिले के एसपी अनुराग आर्य ने पूर्व विधायक सीपू सिंह हत्याकांड के बाद उपद्रव मामले में फरार पांच आरोपियों पर 25-25 हजार इनाम घोषित किया है। पुलिस ने जिन आरोपियों पर इनाम घोषित कर रखा है उनमें विजय यादव, मोहम्मद रिजवान दुर्ग विजय सिंह, अभिषेक सिंह, अरविंद कश्यप शामिल हैं। इन सभी के खिलाफ जीयनपुर थाने में केस भी दर्ज है। फरार आरोपियों की तलाश की जा रही है। इसमें दो सहयोगियों विजय यादव उर्फ सचिन व रिजवान अहमद की संपत्ति एक माह पूर्व कुर्क भी की गई है।

खबरें और भी हैं...