यूपी बोर्ड परीक्षा में 20 फरवरी तक फीडिंग का आदेश:माध्यमिक शिक्षा परिषद प्रयागराज ने जारी किया निर्देश, लापरवारी के लिए प्रिंसिपल होंगे दोषी

आजमगढ़7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
यूपी बोर्ड परीक्षा में शिक्षक 20 फरवरी तक अपडेट कर सकेंगे विवरण, लापरवाही के लिए प्राचार्य होंगे जिम्मेदार। - Dainik Bhaskar
यूपी बोर्ड परीक्षा में शिक्षक 20 फरवरी तक अपडेट कर सकेंगे विवरण, लापरवाही के लिए प्राचार्य होंगे जिम्मेदार।

आजमगढ़ जिले में होने वाली यूपी बोर्ड परीक्षा के लिए शिक्षा परिषद प्रयागराज से निर्देश आ गए हैं। जिले के डीआईओएस विनोद कुमार शर्मा ने बताया कि प्रयागराज से आए निर्देश के आधार पर वर्ष 2022 की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं में परीक्षा केंद्रों पर नियुक्त किए जाने वाले कक्ष निरीक्षकों तथा मूल्यांकन केंद्रों पर नियुक्त होने वाले परीक्षकों और अन्य कार्मिकों की नियुक्ति प्रक्रिया आनलाइन कर दी गई है।

इसके साथ ही उनके पारिश्रमिक भुगतान आदि की प्रक्रिया भी ऑनलाइन कराए जाने और ड्यूटी के लिए ऑनलाइन यूनिक आईडेंटिटी/ ड्यूटी कार्ड जारी करने के लिए जनपद के समस्त माध्यमिक विद्यालयों में कार्यरत समस्त शिक्षकों के शैक्षिक विवरणों और बैंक डिटेल को परिषद की वेबसाइट upmsp.edu.in पर प्रिंसिपल द्वारा अपलोड कराने का निर्देश दिया गया है।

20 फरवरी तक सक्रिय रहेगी वेबसाइट

जिले के डीआईओएस विनोद शर्मा ने बताया कि शिक्षा परिषद द्वारा आए निर्देश के अंतर्गत प्रधानाचार्यों द्वारा शिक्षकों के विवरण को संशोधित करने के लिए परिषद की वेबसाइट 20 फरवरी 2022 तक क्रियाशील रहेगी। डीआईओएस का कहना है कि किसी भी शिक्षक का विवरण अशुद्ध, अपूर्ण अपलोड करने अथवा किसी शिक्षक का विवरण अपलोड न करने की स्थिति में या किसी फर्जी शिक्षक का विवरण अपलोड करने की स्थिति में या किसी शिक्षक का विवरण एक विद्यालय में अथवा एक से अधिक विद्यालय में डुप्लीकेट पाए जाने के लिए संबंधित प्रिंसिपल सीधे तौर पर इसके दोषी माने जाएंगे।

खबरें और भी हैं...