आजमगढ़ में लगी लोक अदालत में हुआ मामलों का निस्तारण:लोक अदालत में आई 84301 मामले, 51413 का किया गया निस्तारण, जज बोले सभी को मिले न्याय

आजमगढ़9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आजमगढ़ जिले में लोक अदालत का शुभारम्भ करते जिला जज दिनेश चंद्र साथ में बड़ी संख्या में न्यायिक विभाग से जुड़े लोग। - Dainik Bhaskar
आजमगढ़ जिले में लोक अदालत का शुभारम्भ करते जिला जज दिनेश चंद्र साथ में बड़ी संख्या में न्यायिक विभाग से जुड़े लोग।

आजमगढ़ जिले में शनिवार को सुबह से ही लोक अदालत का आयोजन किया गया। इस लोक अदालत में 84301 मामले आए। इन मामलों में से 51413 मामलों का निस्तारण किया गया। जिला जज दिनेश चंद्र की अध्यक्षता में आयोजित इस लोक अदालत में 1607 मामलों का निस्तारण करते हुए दो लाख दस हजार से अधिक का जुर्माना भी वसूला गया। इस अवसर जज ओम प्रकाश वर्मा, जज जैनेंद्र कुमार पांडेय विशेष सेवा प्राधिकरण की अनीता सहित बड़ी संख्या में न्यायिक प्रक्रिया से जुड़े लोग उपस्थित रहे।

आजमगढ़ जिले में लोक अदालत के बारे में जानकारी देते लोक अदालत के नोडल ऑफिसर ओम प्रकाश वर्मा।
आजमगढ़ जिले में लोक अदालत के बारे में जानकारी देते लोक अदालत के नोडल ऑफिसर ओम प्रकाश वर्मा।

देश का कोई नागरिक न रहे न्याय से वंचित
मीडिया से बातचीत करते हुए जज व लोक अदालत के नोडल ऑफिसर ओम प्रकाश वर्मा का कहना है कि लोक अदालत विवादों के निस्तारण का वैकल्पिक मंच है। देश का कोई भी नागरिक न्याय से वंचित न हो यही इसका मकसद है। इसी उद्देश्य से लोक अदालत का आयोजन किया जाता है। इससे पूर्व 12 मार्च को लोक अदालत का आयोजन किया गया था, जिसमें बड़ी संख्या में सिविल, आपराधिक, बैंक, किराएदारी, राजस्व से संबंधित मामलों का निस्तारण किया गया था। नोडल ऑफिसर ओम प्रकाश वर्मा ने बताया कि इस लोक अदालत में 84301 मामले आए जिनमें से 51413 मामलों का निस्तारण किया गया। इन मामलों में 16 दंपत्तियों के भी मामले थे जो किन्हीं कारणों से अलग हो गए थे उन्हें साथ रहने के लिए काउंसलिंग की गई। इन दंपत्तियों को माला पहनाकर खुशी-खुशी विदा किया गया।

बैकों के 994 वादों का निस्तारण
लोक अदालत के नोडल ऑफिसर ओम प्रकाश वर्मा ने बताया कि इस लोग अदालत में 994 बैंक से संबंधित मामले भी सामने आए। बैंक के आए मामलों में पांच करोड़, तीन लाख, 37 हजार, 370 रूपए पर समझौते की सहमति बनी।

खबरें और भी हैं...