आजमगढ़ में रूक नहीं रहा धर्मांतरण का खेल:प्रेत-बाधा दूर करने और पैसे का प्रलोभन देकर कराया जा रहा है धर्म परिवर्तन, 2 हिरासत में

आजमगढ़7 दिन पहले
आजमगढ़ जिले में धर्म परिवर्तन करने वाले दो हिरासत में, प्रेत बाधा के नाम पर कराया जा रहा था धर्म-परिवर्तन।

आजमगढ़ में धर्मांतरण का खेल रूकने का नाम नहीं ले रहा है। कभी पैसे का प्रलोभन देकर तो कभी प्रेत-बाधा के नाम पर रविवार के दिन दलित बस्तियों में यह खेल चल रहा है। हिंदू जागरण मंच को जब धर्म परिवर्तन की सूचना मिली तो मौके पर पहुंचे लोगों ने इस मामले की सूचना सिधारी थाने की पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपियों को हिरासत में लिया। हालांकि इस बारे में हिंदू जागरण मंच के पदाधिकारियों ने सिधारी थाने पर तैनात सब इंस्पेक्टर जितेन्द्र कुमार सिंह पर अभद्रता का भी आरोप लगाया।

ईसाई मिशनरियों द्वारा बरगलाया जा रहा था

हिंदू जागरण मंच के विक्रांत का कहना है कि आज जिले के गेलवारा की हरिजन बस्ती में ईसाई मिशनरियों द्वारा धर्म परिवर्तन की सूचना मिली। सूचना मिलने के बाद जब हम लोग मौके पर पहुंचे तो वहां ईसाई मिशनरियों द्वारा शैतानी बाधाओं के नाम पर हरिजन बस्ती की महिलाओं को बरगलाया जा रहा था। महिलाओं को पारस नामक पोस्टर द्वारा परमेश्वर को अपनाने की बात कही जा रही थी। इसके साथ ही यह भी कहा गया कि इससे पैसा और समृद्धि भी आएगी।

मामले की सूचना प्रशासन को दे दी गई है। अभी तक प्रशासन ने कोई कार्रवाई नहीं की है। यदि थाने पर सुनवाई नहीं होती है तो हम लोग मामले को लेकर जिले के एसपी से भी मुलाकात करेंगे। हालांकि दोनों आरोपियों को हिरासत में लेकर पुलिस मामले की पूछताछ में जुट गई है। यह पहला वाक्या नहीं है इससे पूर्व भी जिले में लगातार धर्म परिवर्तन की घटनाएं सामने आती रहती हैं।

खबरें और भी हैं...