आजमगढ़ जिले के 11 ब्लाकों में शौचालय अपूर्ण:CDO ने जूम मीटिंग में परखी हकीकत, डीपीआरओ से मांगा स्पष्टीकरण, जल्द पूरा कराने के निर्देश

आजमगढ़3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आजमगढ़ जिले के 11 ब्लाकों के शौचालय अपूर्ण, सीडीओ ने दिए जल्द पूरा करने के निर्देश। - Dainik Bhaskar
आजमगढ़ जिले के 11 ब्लाकों के शौचालय अपूर्ण, सीडीओ ने दिए जल्द पूरा करने के निर्देश।

आजमगढ़ जिले के मुख्य विकास अधिकारी आनंद कुमार शुक्ला ने जूम मीटिंग के माध्यम से जिले के शौचालयों की स्थिति जानी। सीडीओ की इस जांच में जिले के 11 ब्लाकों के शौचालय अपूर्ण पाए गए। इन ब्लाकों में कहीं पर शौचालय की शीट नहीं लगी तो कहीं टोटी नहीं लगी है। कई शौचालयों में पानी की भी व्यवथा नहीं है। ऐसे में जिले के सीडीओ ने डीपीआरओ से मामले में स्पष्टीकरण मांगा है।

इन ब्लाकों की हालत दयनीय
सीडीओ आनंद कुमार शुक्ला ने बताया कि जिन ब्लाकों में शौचालयों की स्थित खराब है उनमें प्रमुख रूप से कोयलसा, लालगंज, महाराजगंज, मार्टिनगंज, मेंहनगर, मिर्जापुर, सठियांव, तहबरपुर, तरवां, ठेकमा प्रमुख हैं। इन ब्लाकों के शौचालयों की दशा को सुधारने का निर्देश दिया गया है। अन्यथा की स्थिति में कार्रवाई की जाएगी।

एक दिन पूर्व रूका था 35 एडीओ पंचायत का वेतन
जिले के सीडीओ आनंद कुमार शुक्ला ने एक दिन पूर्व स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के अंतर्गत जूम मीटिंग में सामुदायिक शौचालय बंद होने के संबंध में अनुपस्थित होने पर जारी कारण बताओ नोटिस का जवाब 17 विकास खंडों के 35 सहायक विकास अधिकारी पंचायत (एडीओ पंचायत), ग्राम संचिव और संबंधित स्वयं सहायता समूह (एसएचजी) ने नहीं दिया। सीडीओ ने मामले को गंभीरता से लिया तो डीपीआरओ लालजी दूबे ने सभी संबंधित एडीओ पंचायत एवं ग्राम सचिव का एक माह (मई माह) का वेतन और स्वयं सहायता समूह की संबंधित महिलाओं के एक माह मानदेय भुगतान पर रोक लगा दी है। चेतावनी जारी की गई है कि भविष्य में आदेश के अवहेलना पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...