आजमगढ़ में अमृत महोत्सव के तहत निकली तिरंगा यात्रा:आजादी के 75 वें वर्ष निकाली गई यात्रा, युवाओं को बताई जा रही वीर शहीदों की कहानियां

आजमगढ़5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आजमगढ़ में आजादी के अमृत महोत्सव के अन्तर्गत निकली तिरंगा यात्रा, इसके माध्यम से दी जा रही शहीदों की वीर गाथाओं की कहानी। - Dainik Bhaskar
आजमगढ़ में आजादी के अमृत महोत्सव के अन्तर्गत निकली तिरंगा यात्रा, इसके माध्यम से दी जा रही शहीदों की वीर गाथाओं की कहानी।

आजमगढ़ जिले में आजादी के अमृत महोत्सव के अन्तर्गत तिरंगा यात्रा निकाली गई। देश की आजादी के 75 वर्ष पूर्ण होने पर निकाली गई इस यात्रा के माध्यम से वीर-शहीदों की वीर गाथाओं के बारे में युवाओं को बताया जा रहा है, जिससे यह युवा आजादी के वीरों के बारे में समझ सकें। जिले में 19 नवम्बर से 19 दिसम्बर तक यह यात्रा निकाली जा रही है। 16 दिसम्बर को वृहद कार्यक्रम किया जाएगा जिसमें सांस्कृतिक कार्यक्रम किया जाऐगा और बाहर के अतिथियों का उद्बोधन होगा और उन बलिदानियों के बारे में जानकारी दी जाएगी, जिन्हें इतिहास ने तोड़-मरोड़ कर पेश किया।

आजमगढ़ में आजादी के अमृत महोत्सव के तहत निकली तिरंगा यात्रा के बारे में जानकारी देते अजय अग्रवाल सह संचालक आरएसएस।
आजमगढ़ में आजादी के अमृत महोत्सव के तहत निकली तिरंगा यात्रा के बारे में जानकारी देते अजय अग्रवाल सह संचालक आरएसएस।

गांव-गांव जाएगा अभियान
आरएसएस के नगर सह संचालक अजय अग्रवाल ने बताया कि इस जनजागरण अभियान के तहत हर गांव व मोहल्ले में यह यात्रा जाऐगी। इसके साथ ही भारत मां का गान व आरती की जाएगी। जिसे के सभी चारों मार्गों से होते हुए इस यात्रा का शाम चार बजे समापन किया जाऐगा। इस यात्रा के माध्यम से चौरी-चौरा के 100 वर्ष पूरे होने सहित आजादी की लड़ाई की महत्वपूर्ण तिथियों व योद्धाओं को याद किया जाएगा, जिन्होंने देश की आजादी के लिए अपने प्राणों की बाजी लगा दी। जिससे हमारी आने वाली युवा पीढ़ी प्रेरित हो सके। शहर के चार अलग-अलग दिशा के चौराहे सिधारी हाइडल, बेलइसा बलरामपुर और भंवरनाथ चौराहे से तिरंगा यात्रा निकली है, जिसका समापन कुंवर सिंह उद्यान में किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...