आजमगढ़ के समाज कल्याण व प्रोबेशन अधिकारी होंगे निलंबित:DM राजेश कुमार ने CDO को सौंपी थी जांच, रानी लक्ष्मी बाई योजना में मोलभाव करने का आरोप

आजमगढ़7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आजमगढ़ जिले में समाज कल्याण अधिकारी व जिला प्रोबेशन अधिकारी द्वारा की गई गड़बड़ी की शिकायत सही पाई गई। CDO ने शासन को भेजी निलंबित करने की रिपोर्ट। - Dainik Bhaskar
आजमगढ़ जिले में समाज कल्याण अधिकारी व जिला प्रोबेशन अधिकारी द्वारा की गई गड़बड़ी की शिकायत सही पाई गई। CDO ने शासन को भेजी निलंबित करने की रिपोर्ट।

आजमगढ़ जिले में प्रदेश सरकार की महात्वाकांक्षी रानी लक्ष्मी बाई योजना में 66 लाभार्थियों को अब तक लाभ नहीं मिला। इस मामले की शिकायत DM राजेश कुमार से की गई। DM ने मामले की जांच CDO आनंद कुमार शुक्ला को सौंपा तो इस जांच में कई गड़बड़ियां सामने आई। वहीं समाज कल्याण अधिकारी विनोद कुमार पर महराजगंज ब्लाक में अवैध नियुक्ति के साथ स्कूलों में बच्चों की संख्या को बढ़ाकर दिखाने का आरोप है। जब मामले की स्थलीय जांच हुई तो तथ्य खुलकर सामने आए। इन दोनो अधिकारियों के साथ उप मुख्य परीवीक्षा अधिकारी ओंकार नाथ यादव व समाज कल्याण अधिकारी के बाबू सहित चारों लोगों के निलंबन की रिपोर्ट शासन को भेजी जा रही है।

आजमगढ़ जिले के जिला प्रोबेशन अधिकारी बीएल यादव पर प्रदेश सरकार की महात्वाकांक्षी रानी लक्ष्मी बाई योजना में गड़बड़ी के साथ मोलभाव करने का आरोप है।
आजमगढ़ जिले के जिला प्रोबेशन अधिकारी बीएल यादव पर प्रदेश सरकार की महात्वाकांक्षी रानी लक्ष्मी बाई योजना में गड़बड़ी के साथ मोलभाव करने का आरोप है।

प्रोबेशन अधिकारी पर यह है आरोप
जिले के जिला प्रोबेशन अधिकारी बीएल यादव पर प्रदेश सरकार की महात्वाकांक्षी रानी लक्ष्मी बाई योजना में महिला उत्पीड़न की शिकार महिलाओं के साथ मोल-भाव करने का आरोप लगा है। दैनिक भास्कर ने 19 नवम्बर को आजमगढ़ में दम तोड़ रही रानी लक्ष्मी बाई सम्मान योजना की खबर लिखी थी। जिले में अभी तक 66 रेप पीड़िताओं को सम्मान नहीं मिला। इसकी शिकायत मिलने पर मामले की जांच कराई गई। इसके साथ ही बीएल यादव पर आरोप है कि अपने ही ऑफिस में अपने भतीजे की नियुक्ति कराई है।

आजमगढ़ जिले के समाज कल्याण अधिकारी विनोद कुमार पर अवैध नियुक्ति के साथ स्कूल में बच्चों के पंजीकरण में गड़बड़ी व बिना पात्रता वाले शिक्षकों को रखने का आरोप है।
आजमगढ़ जिले के समाज कल्याण अधिकारी विनोद कुमार पर अवैध नियुक्ति के साथ स्कूल में बच्चों के पंजीकरण में गड़बड़ी व बिना पात्रता वाले शिक्षकों को रखने का आरोप है।

समाज कल्याण अधिकारी पर यह है आरोप
दैनिक भास्कर से बातचीत करते हुए जिले के मुख्य विकास अधिकारी आनंद कुमार शुक्ला ने बताया कि समाज कल्याण अधिकारी विनोद कुमार की शिकायत प्राप्त हुई कि महराजगंज में अवैध नियुक्ति की गई है। इसके साथ ही विद्यालय में इनके द्वारा 744 बच्चों का पंजीकरण दिखाया गया है जबकि स्थलीय निरीक्षण करने के बाद वहां पर 300 से अधिक बच्चों की क्षमता नही है। निरीक्षण के दौरान 200 बच्चे ही मिले। इसके साथ ही इस स्कूल में तैनात अनेक शिक्षक ऐसे हैं जो न तो डिग्री पूरी करते हैं और न ही पात्रता। ऐसे में यह रिपोर्ट शासन को निलंबन की रिपोर्ट भेजी जा रही है।

क्या कहते हैं CDO
इस मामले में जिले के CDO का कहना है कि इन दोनो अधिकारियों के साथ इनके क्लर्क भी इनके साथ शामिल हैं। ऐसे में जांच में भारी गड़बड़ियां मिली जिसके आधार पर शासन को निलंबित करने की रिपोर्ट भेजी जा रही है।

खबरें और भी हैं...