• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Azamgarh
  • Corruption In MNREGA Scheme In Azamgarh As Ration And Sweet Vendors Shown As Labor, Victim Registers Complaint On Online Portal And Demands Action On Culprits

आजमगढ़ में मनरेगा में धांधली:राशन और मिठाई के दुकानदारों को बना दिया मजदूर, पीड़ित ने ऑनलाइन पोर्टल पर शिकायत दर्ज कराई

आजमगढ़16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आजमगढ़ में मनरेगा में धोखाधड़ी। - Dainik Bhaskar
आजमगढ़ में मनरेगा में धोखाधड़ी।

आजमगढ़ जिले में सरकार की महत्वाकांक्षी योजना मनरेगा के नाम पर धोखाधड़ी और भ्रष्टाचार का मामला प्रकाश में आया है। जिले के अजमतगढ़ ब्लॉक के राशन और मिठाई की दुकान चलाने वाले लोगों के बड़ी संख्या में नाम मनरेगा में दर्ज कर अपने परिचित व्यक्तियों के खातों में पैसा भेजा जा रहा है। इस इलाके में रहने वाले लोगों को भी इस धांधली की जानकारी बहुत देर से मिली।

जानकारी मिलने पर किराना की दुकान करने वाले संजय कुमार पुत्र जगराज ने इस मामले की आनलाइन और जिले के DM से 20 दिसंबर को शिकायत कर सभी जिम्मेदारों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

व्यापार कर रहे दुकानदार बन गए मजदूर

मनरेगा में धांधली धोखाधड़ी और भ्रष्टाचार की इस शिकायत के बाद भास्कर ने पड़ताल की। पचा चला कि बाजार बागखालिस में किराना जनरल स्टोर संचालक संजय कुमार उनकी पत्नी सुनीता, बेटी तुलसी, अर्चना भाई विजय कुमार और विनीता का नाम मनरेगा मजदूरों में दर्ज है। इन नामों में दूसरों के बैंक खाते लगाए गए हैं। इस बात की जानकारी होने पर संजय कुमार ने इसकी शिकायत की।

मिठाई की दुकान करने वाले देवेंद्र मोदनवाल और आकाश मोदनवाल, सुभाष गुप्ता और उनकी पत्नी उर्मिला गुप्ता की भी मिठाई की दुकान है। उनके नाम भी मनरेगा मजदूर के रूप में दर्ज हैं। बागखालिस में ही मिठाई की दुकान करने वाले सुरेश कुमार गुप्ता इनकी पत्नी रेखा गुप्ता, बेटे शुभम और विक्रांत के नाम भी मजदूर के रूप में दर्ज हैं।

बाजार में किराने की दुकान चलाने वाले दिनेश प्रसाद गुप्ता का भी नाम मनरेगा मजदूरों में दर्ज है। दैनिक भास्कर से बातचीत करते हुए इन लोगों का कहना है कि हम लोगों को अब मामले की जानकारी हुई है। इसलिए हम प्रशासन से मामले की जांच कराकर दोषियों पर कार्रवाई चाहते हैं।

मनरेगा मजदूर के तौर पर अपना नाम, पड़ोस के गांव में काम, मजदूरी किसी और के खाते में जाने की जानकारी से सभी हैरत में हैं। इस मामले में शामिल सभी कड़ियों के विरुद्ध विभागीय और कानूनी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

यह बोले अधिकारी

जिले के अजमतगढ़ ब्लॉक में हुई इस गड़बड़ी के सवाल पर जिले के CDO आनंद शुक्ला का कहना है कि अभी तक इस मामले की जानकारी नहीं है। आपके पास जो साक्ष्य हैं, हमें उपलब्ध करा दीजिए मामले की जांच कराकर दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...