बेटे ने पिता और भाई की गोली मारकर की हत्या:आजमगढ़ में प्रॉपर्टी के बंटवारे और खर्चे पर हुआ था विवाद, आरोपी हिरासत में

आजमगढ़8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आजमगढ़ जिले में देर रात डबल मर्डर की सूचना पर घटना स्थल का निरीक्षण करने पहुंचे जिले के एसपी अनुराग आर्य। - Dainik Bhaskar
आजमगढ़ जिले में देर रात डबल मर्डर की सूचना पर घटना स्थल का निरीक्षण करने पहुंचे जिले के एसपी अनुराग आर्य।

आजमगढ़ जिले के कप्तानगंज थाना क्षेत्र के धनधारी गांव में देर रात बेटे ने अपने पिता और सगे भाई की गोली मारकर हत्या कर दी। यह घटना देर रात की है। 46 साल के मनोज सिंह पुत्र श्रीनारायण सिंह का प्रॉपर्टी में बंटवारे और खर्चे को लेकर विवाद हुआ। इसी दौरान सगा छोटा भाई मनीष (40) भी आ गया। आरोपी मनोज सिंह ने पहले अपने पिता श्रीनारायण सिंह और बाद में मनीष सिंह को लाइसेंसी पिस्टल से गोली मार दी।

बाप-बेटे दोनों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। घटना की जानकारी मिलते ही एसपी अनुराग आर्य और एसपी ग्रामीण सिद्धार्थ सहित आला अधिकारियों ने घटनास्थल का दौरा कर आरोपी को हिरासत में ले लिया।

प्रॉपर्टी के विवाद में हुई हत्या
एसपी अनुराग आर्य ने बताया कि प्रॉपर्टी के विवाद को लेकर बेटे ने अपने पिता और सगे भाई की हत्या की है। अभियुक्त ने अपने बड़े पिता की पत्नी को भी लाठी-डंडे से पीटा है। घायल महिला को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अभियुक्त मनोज सिंह पुलिस हिरासत में है और उससे विस्तार से पूछताछ की जा रही है। मामले में मुकदमा दर्ज कर अग्रिम कार्रवाई की जा रही है।

रिटायर्ड सैनिक है आरोपी
एसपी अनुराग आर्य ने बताया कि अभियुक्त एक साल पहले ही सेना से रिटायर हुआ है। आरोपी के पिता श्रीनारायण सिंह भी सेना से रिटायर्ड थे। आरोपी के सगे भाई मनीष सिंह को उसके बड़े पिता स्व. रामनारायण सिंह की पत्नी ने छह साल की उम्र में गोद ले लिया था।

खबरें और भी हैं...