शराब के लिए रुपये न देने पर दादा-दादी की हत्या:अलग-अलग मकानों में मिले 3 दिन पुराने शव, बदबू आने पर हुई जानकारी

बिसौली, बदायूं5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बदायूं में शराब के लिए रुपये न देने पर पोते ने दादा-दादी की हत्या कर दी। इसके बाद शव को अलग-अलग मकानों में फेंक दिया और बाहर से ताला लगा दिया। बदबू आने पर ग्रामीणों ने पुलिस को जानकारी दी। पुलिस ने ताले तोड़कर मकानों से शवों को बरामद कर लिया। दोनों शव 3 दिन पुराने बताए जा रहे हैं। पुलिस ने पोते के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

थाना फैजगंज बेहटा क्षेत्र के दामरी गांव निवासी बुजुर्ग प्रेमशंकर (65) व उनकी पत्नी भगवानदेई (60) के तीन पुत्र हैं। इनमें सबसे छोटा बेटा गेंदनलाल दिल्ली में एक फौजी के यहां नौकरी करता है, जबकि इंद्रपाल और रामपाल भी दिल्ली में ही रहकर मजदूरी करते हैं। दंपति तीनों बेटे के यहां बारी-बारी रहते थे। तीनों भाइयों में बंटवारा भी हो चुका है।

22 जून को बुजुर्ग दंपति दिल्ली से अपने गांव में एक शादी समारोह में शामिल होने के लिए आए थे। दोनों शामिल हुए लेकिन इसके बाद नजर नहीं आ रहे थे। इससे ग्रामीणों ने सोचा कि शायद दोनों लौट गए होंगे।

घर का ताला तोड़ अंदर जाती पुलिस
घर का ताला तोड़ अंदर जाती पुलिस

सड़े-गले अवस्था में मिले शव, फोरेंसिक टीम ने जुटाए साक्ष्य
बंटवारे के बाद रामपाल को गांव में पैतृक घर समेत 2 मकान मिले थे। शनिवार की शाम इन्हीं दोनों मकानों से में से तेज बदबू आ रही थी। इस पर ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी। दोनों मकानों में बाहर से ताले पड़े थे। पुलिस ने दोनों घरों से ताले तुड़वा दिए। जैसे-जैसे पुलिस अंदर दाखिल होती गई बदबू बढ़ती गई। घर के अंदर दंपति का सड़ा-गला शव पड़ा था। सीओ ओजस्वी चावला ने जांच-पड़ताल की और शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया। फोरेंसिक टीम को भी बुला लिया गया।

घर के अंदर जांच पड़ताल करती पुलिस
घर के अंदर जांच पड़ताल करती पुलिस

आरोपी के पिता ने ही खोला राज, कहा-पोते ने मार डाला
घटना के संबंध में पुलिस को दंपति के बड़े बेटे रामपाल ने बताया कि उसका बेटा हिमेश (20) नशा करता है। वह दादा-दादी से अक्सर शराब पीने के लिए रुपये मांगा करता था। इसके कारण आए दिन कलह होती रहती थी। बुजुर्ग माता-पिता के गांव के आने के दौरान हिमेश भी दिल्ली से आया हुआ था। उसने दादा-दादी से शराब के लिए रुपये मांगे और न मिलने पर उन्हें मार डाला।

आरोपी हिमेश के खिलाफ अभियोग पंजीकृत करती पुलिस
आरोपी हिमेश के खिलाफ अभियोग पंजीकृत करती पुलिस

धोखा देने के लिए मकान के बाहर लगाया ताला
हिमेश ने दोनों हत्याओं का राज छुपाने के लिए घरों के बाहर ताला लगा दिया था। उसे मालूम था कि ताला देख लोग सोचेंगे कि दंपति दिल्ली अपने बेटों के पास चले गए होंगे। लेकिन, मकान से बदबू आने पर पूरा राज ही खुल गया।

घटना को लेकर एसपी देहात सिद्धार्थ वर्मा ने बताया कि मृतक के बड़े पुत्र रामपाल की तहरीर के आधार पर अभियोग पंजीकृत कर लिया गया है और आरोपी की तलाश के लिए पुलिस की टीमों को लगा गई है। साथ ही मृतक दंपति की शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया गया है।

खबरें और भी हैं...