बदायूं में पूर्व BJP MLA की मृतक पत्नी पर FIR:20 साल पहले हो चुकी है मौत, संपत्ति हड़पने के आरोप में पूरे परिवार पर मुकदमा दर्ज

बदायूं16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बदायूं सदर कोतवाली पुलिस की नई कारगुजारी सामने आई है। पुलिस ने पूर्व भाजपा विधायक दयासिंधु शंखधार की पत्नी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया, जबकि उनकी 20 साल पहले मौत हो चुकी है। इस मुकदमे में पूर्व विधायक समेत परिवार के 6 लोग शामिल हैं। वहीं जब इस बात की जानकारी पुलिस के आला अधिकारियों को हुई तो उन्होंने मृतका का नाम मुकदमे से निकलवाने की बात कही। पूर्व विधायक के बेटे ने बताया कि मुकदमा दर्ज कराने वाला उनकी बहन का देवर है। उसका आरोप है कि हम लोग उसकी संपत्ति हड़पना चाहते हैं, लेकिन हमें उसकी संपत्ति से क्या लेना-देना।

1993 में विधायक रहे थे दयासिंधु शंखधर

मूल रूप से कस्बा इस्लामनगर के रहने वाले दयासिंधु शंखधार साल 1993 में बिसौली विधानसभा से भाजपा के सिंबल पर अपनी किस्मत आजमाए थे और जीत का खिताब हासिल कर विधायक बने। हालांकि सरकार 6 महीने ही चली और उनका कार्यकाल समाप्त हो गया, लेकिन उनकी निष्पक्ष छवि अभी भी जिले भर में चर्चा का विषय रहती है।

पूर्व भाजपा विधायक दयासिंधु शंखधार।
पूर्व भाजपा विधायक दयासिंधु शंखधार।

शहर के मोहल्ला शिवपुरम निवासी हरिश्चंद्र इंजीनियर है। उसकी ओर से IGRS पर शिकायत दर्ज कराई गई थी। शिकायत के मुताबिक, पूर्व विधायक के अलावा उनकी पत्नी शशिबाला शंखधार, बेटा सौरभ शंखधार, सौरभ की पत्नी मौली शंखधार, बेटी सुरभि मिश्रा और परिवार के ही संजय व नरेश मिश्रा साजिश के तहत उसकी संपत्ति हड़पना चाहते हैं। इसके लिए उसे पागल साबित कर मानसिक प्रताड़ना दे रहे हैं।

यही कारण है कि वह अपना पैतृक घर छोड़कर मां के साथ यहां-वहां 5 साल से रह रहा है। शिकायत में यह भी जिक्र था कि अगर पुलिस ने इन लोगों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की तो वह आत्महत्या कर लेगा और इसकी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी।

जांच में स्पष्ट होगी स्थिति

एसपी सिटी प्रवीन सिंह चौहान ने कहा कि पूर्व विधायक की पत्नी की मौत हो चुकी है, इसकी जानकारी नहीं थी। IGRS से शिकायत पत्र मिला था, जिसके आधार पर सदर कोतवाली में मुकदमा दर्ज किया गया। मामले की जांच में जो भी तथ्य सामने आएंगे, उस आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। किस स्तर पर चूक हुई, इसकी भी जांच कराई जाएगी।

पूर्व विधायक के बेटे सौरभ शंखधार (फाइल फोटो)।
पूर्व विधायक के बेटे सौरभ शंखधार (फाइल फोटो)।

वहीं पूर्व विधायक के बेटे सौरभ शंखधार ने कहा कि हरिश्चंद्र पहले भी हमारे परिवार के खिलाफ फेसबुक पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर चुका है। इसकी शिकायत भी हमने की थी। वह मेरी बहन का देवर है। पिता का इन दिनों स्वास्थ्य ठीक नहीं रहता। भला हमें उनकी संपत्ति से क्या मतलब है। हम पर लगाए गए आरोप निराधार हैं। उनकी माता का निधन हुए 20 साल से अधिक का वक्त बीत चुका है।

खबरें और भी हैं...