बदायूं में अंतरराष्ट्रीय वालंटियर दिवस पर युवा सेमिनार:नोडल अधिकारी बोले-राष्ट्रसेवा से आएगा युवाओं के व्यक्तित्व में निखार

बदायूं2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बदायूं में अंतरराष्ट्रीय वालंटियर दिवस पर युवा सेमिनार में मंचासीन मुख्य अतिथि। - Dainik Bhaskar
बदायूं में अंतरराष्ट्रीय वालंटियर दिवस पर युवा सेमिनार में मंचासीन मुख्य अतिथि।

बदायूं के राजकीय डिग्री कॉलेज में सोमवार को राष्ट्रीय सेवा योजना के तत्वावधान में अंतरराष्ट्रीय वालंटियर दिवस पर युवा सेमिनार का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ एनएसएस के जिला नोडल अधिकारी डॉ. राकेश कुमार जैसवाल और जिला युवा अधिकारी डॉ. दिनेश यादव ने किया। अध्यक्ष डॉ. बबिता यादव ने मां सरस्वती एवं स्वामी विवेकानंद के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्ज्वलित कर किया।

मुख्य अतिथि डॉ. राकेश कुमार जैसवाल ने कहा कि युवा राष्ट्र की शक्ति हैं, जिन्हें अपने व्यक्तिगत कार्य के साथ ही निस्स्वार्थ भाव से समाज की सेवा और राष्ट्र की सेवा करनी चाहिए। इससे उनके व्यक्तित्व का निर्माण होगा। साथ ही समाज का और राष्ट्र का समुचित विकास होगा। समाज सेवा के लिए अलग से कोई व्याख्यान या प्रशिक्षण की आवश्यकता नहीं होती, बल्कि समाज सेवा का भाव स्वतः विकसित होता है।

सेमिनार में भाग लेते बच्चे।
सेमिनार में भाग लेते बच्चे।

पूरे मनोयोग से करें सामाजिक काम

कार्यक्रम अध्यक्ष डॉ. बबिता यादव ने कहा कि सामाजिक कार्यों को करने से युवाओं का उत्साह और मनोबल बढ़ता है। अतः युवा पूरे मनोयोग से रक्तदान, पौध-रोपण, स्वच्छता अभियान जैसे अन्य महत्वपूर्ण कार्यक्रमों में अपना अमूल्य योगदान प्रदान करें। विशिष्ट अतिथि डॉ. संजय कुमार ने देश की प्रगति हेतु युवाओं की सहभागिता एवं स्वयं-सेवा को महत्वपूर्ण बताया।

कार्यक्रम में शामिल लोग

इस मौके पर एनएसएस के कार्यक्रम अधिकारी डॉ सतीश सिंह यादव, डॉ गौरव कुमार सिंह, डॉ नीरज कुमार,डॉ सरिता यादव, डॉ दिलीप वर्मा, संजीव श्रीवास्तव, रवेंद्र पाल सिंह,अर्जुन सिंह, स्नेहा पांडेय, गीतंजली सिंह आदि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...