बदायूं में दलितों के बाल काटने से किया इनकार:बोले- दुकान में घुसने से हो जाएगी गंदगी, 3 नाइयों पर लगा SC-ST एक्ट

बदायूंएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बदायूं में दलितों के बाल काटने से किया इनकार। - Dainik Bhaskar
बदायूं में दलितों के बाल काटने से किया इनकार।

बदायूं के दातागंज कोतवाली क्षेत्र में दलितों के बाल काटने और शेविंग करने से वहां के नाइयों ने इनकार कर दिया। नाइयों का कहना है कि दलितों के दुकान में घुसने से दुकान गंदी हो जाएगी। ऐसे में बाल नहीं काटेंगे। वहीं मामले की जानकारी होने पर पुलिस ने 3 लोगों के खिलाफ मुकदमा तो दर्ज कर लिया है, लेकिन अभी तक किसी के ऊपर कार्रवाई नहीं की है।

27 नंवबर को दर्ज कराई थी FIR

बता दें कि दातागंज कोतवाली क्षेत्र के समरेर गांव निवासी ओमप्रकाश ने बीते 27 नंबवर को गांव के 3 लोगों पर SC-ST एक्ट का मुकदमा दर्ज कराया। शिकायती पत्र में ओमप्रकाश ने बताया कि गांव के विजेंद्र, सुनील और यादराम की बाल काटने की दुकान है। जब भी ओमप्रकाश समेत उनकी बिरादरी के लोग बाल कटवाने जाते हैं तो इन लोगों को विजेंद्र आदि जातिसूचक शब्द कहते हुए गाली-गलौज करके भगा देते हैं और बाल नहीं काटते हैं।

नाई बोले- पुलिस को हमने खरीदा

मुकदमे में ओमप्रकाश ने यह भी आरोप लगाया कि विजेंद्र, सुनील और यादराम ने यह भी कहा है कि उन्होंने पुलिस को खरीद लिया है। ज्यादा बोलोगे तो जान से मार देंगे और लाश गायब करा देंगे। इस पर दलित समाज के लोग उनकी दुकान से लौट आए।

पहले भी हुआ था विवाद

दोनों पक्षों के बीच यह विवाद महीना भर पहले भी हुआ था। हालांकि उस वक्त एसडीएम और सीओ गांव पहुंचे और पंचायत कराकर इस प्रकरण को सुलझा दिया। दोनों पक्ष उस वक्त जमीन को लेकर विवाद कर रहे थे और यह मुद्दा भी सामने आया था।

एसपी सिटी प्रवीण सिंह चौहान ने बताया कि मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। सीओ दातागंज इसकी जांच कर रहे हैं। जांच में जो भी साक्ष्य मिलेंगे, उसके आधार पर कार्रवाई होगी। फिलहाल कई बिंदुओं पर जांच चल रही है।