बदायूं में पुलिस मुठभेड़ में बदमाश को लगी गोली:SOG का सिपाही भी गोली लगने से घायल, लूट के 2 लाख बरामद; व्यापारी से लूटे थे 5 लाख रुपए

बदायूं16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बदायूं में भी पुलिस रविवार सुबह एक्शन में आ गई। फैजगंज बेहटा इलाके में महीने भर पहले 5.50 लाख की लूट को अंजाम देने वाले शातिरों से SOG व इस्लामनगर पुलिस का सामना हुआ तो मुठभेड़ हो गई। दोनों ओर से कई राउंड फायरिंग के बाद एक लुटेरे की टांग में गोली लग गई। वहीं SOG का सिपाही भी हाथ में गोली लगने से घायल हो गया। लुटेरे का एक साथी मौके से भाग निकला, जबकि घायलों का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है।

बता दें, एनकाउंटर इस्लामनगर थाना क्षेत्र में चंदौसी रोड पर बर्रई पुल के पास हुआ। SSP डॉ. ओपी सिंह ने बताया, SOG टीम को शनिवार रात सूचना मिली कि इस्लामनगर इलाके में मुरादाबाद के 2 शातिर बदमाश लूट के इरादे से पहुंचने वाले हैं। SSP के निर्देश पर टीम इस्लामनगर इलाके में पहुंच गई।

साढ़े 4 बजे हुई मुठभेड़
बर्रई पुल पर पुलिस टीम चेकिंग कर रही थी। चेकिंग के दौरान टीम ने बदमाशों को रोका तो उन्होंने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। आनन-फानन में टीम ने भी मोर्चा संभाल कर क्रास फायरिंग की तो एक बदमाश की टांग में गोली लगी। जबकि उसका साथी फायरिंग करता हुआ भाग गया। इधर, सिपाही पुष्पेंद्र के हाथ में गोली लग गई।इस गैंग के पीछे फैजगंज थाना पुलिस लगी थी और इस्लामनगर पुलिस व SOG घेराबंदी करने पहुंची थी। खुद को घिरा देख बदमाश करो या मरो वाली स्थिति में आ गए और गोलीबारी शुरू कर दी।

फैजगंज में की थी लूट
पकड़े गए शातिर समेत सिपाही को रात में ही अस्पताल ले जाया गया। इधर, पूछताछ में आरोपी ने अपना नाम मोहम्मद कमर निवासी गांव थामला थाना बिलारी, मुरादाबाद बताया। जबकि फरार साथी इमरान उर्फ इलायची है। आरोपी के पास से पुलिस ने 2.10 लाख रुपए समेत तमंचा, कारतूस और बाइक भी बरामद की है। आरोपी ने कबूला कि फैजगंज बेहटा इलाके में महीने भर पहले उसने गल्ला व्यापारी से 5.50 लाख की लूट की थी।

उसी रकम का बचा हुआ हिस्सा बरामद नकदी है। SSP ने बताया, फिलहाल घायलों का इलाज चल रहा है। घटनास्थल का मुआयना किया है। आरोपी का आपराधिक रिकॉर्ड खंगाला जा रहा है। डॉक्टर की राय के बाद उसे डिस्चार्ज कराकर कोर्ट में पेश किया जाएगा।