बदायूं में घर में जिंदा जला बुजुर्ग:चारपाई पर पड़ा मिला शव, घर के बारे में बात करने के लिए बुलाया था बेटो को

बदायूं2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
यह राम स्वरूप की फाइल फोटो है। - Dainik Bhaskar
यह राम स्वरूप की फाइल फोटो है।

बदायूं में एक बुजुर्ग जिंदा जलकर मौत हो गई। बेटे का बुजुर्ग का जला हुआ शव चारपाई पर पड़ा मिला। पुलिस ने गांव पहुंचकर जानकारी ली। इसके बाद शव का पोस्टमॉर्टम कराया है।

घटना दातागंज कोतवाली के मेल्हा गांव की है। यहां के राम स्वरूप (64) अपने घर में अकेले रहते थे। उनका एक बेटा राजेश मुरादाबाद में रहकर नौकरी करता है। जबकि दो बेटे दिल्ली में नौकरी करते हैं। राजेश ने बताया कि घटना से एक दिन पहले 28 नवंबर की रात पिता से फोन पर बात हुई थी। उन्होंने उसे घर पर बुलाया था, कहा था कि घर के संबंध कुछ जरूरी बात करनी है।

भीतर से लगी थी कुंडी

बेटे ने बताया कि अगले दिन मैं घर पहुंचा तो घर का दरवाजा भीतर से बंद था। काफी देर दरवाजा खटखटाने के बाद भी गेट नहीं खुला।आंगन में सीढ़ियों की कुंडी खुली हुई थी। पड़ोसियों की छत के जरिए वहां पहुंचा और भीतर का दृश्य देखकर सकते में पड़ गया। वहां पर पिता का जला हुआ शव पड़ा था और चारपाई भी काफी हद तक जल चुकी थी। शोर मचाया तो आसपास इलाके के लोग भी मौके पर जा पहुंचे।

बेटा बोला-किसी से नहीं रंजिश

बेटे ने बताया कि उनकी गांव में किसी से कोई रंजिश नहीं है। छोटी मोटी कहासुनी तो आज पड़ोस में किसी से भी हो जाती है, लेकिन नौबत कत्लेआम तक आ जाए ऐसा मामला अभी तक नहीं है। उन्होंने जलने से ही मौत की आशंका जताई है। इधर पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में भी शरीर में कुछ भी ऐसा नहीं मिला, जिससे मौत की वजह तलाशी जा सके।

खबरें और भी हैं...