आरक्षण सूची देख बदायूं में कहीं खुशी कहीं गम:कई प्रत्याशियों के अरमानों पर फिरा पानी, सपा ने बताया साजिश

बदायूं2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बदायूं में निकाय चुनाव की सरगर्मियों के बीच नगर पालिका व नगर पंचायत अध्यक्ष पद के लिए आरक्षण की सूची जारी हो चुकी है। इसमें जहां कई के अरमान टूटे हैं तो कई ऐसे भी दावेदार हैं, जिनके अरमानों को पंख लग चुके हैं। जहां भाजपा हर सीट पर कमल खिलने का दावा कर रही है। वहीं, सपा ने आरक्षण सूची को लेकर शासन को घेरा है और भेदभाव का आरोप भी लगाया है।

बदायूं की सात नगर पालिका और 14 नगर पंचायतों के चेयरमैन की गद्दी पर कौन बैठेगा और चेयरमैन का ताज किसके सिर सजेगा, इसके लिए शासन स्तर से आरक्षण की सूची जारी हो चुकी है। जहां एक तरफ सत्ताधारी दल भाजपा सभी 21 सीटों पर कमल खिलाने का दावा कर रही है। वहीं, समाजवादी पार्टी के जिला अध्यक्ष प्रेमपाल सिंह यादव ने स्पष्ट आरोप लगाया है कि सूची में भेदभाव पूर्ण नीति अपनाई गई है। ताकि सपा को नुकसान हो जाए। इसी बीच कई ऐसे दावेदार भी थे, जो चेयरमैनी हासिल करने की चाह रख रहे थे। हालांकि सूची जारी होने के बाद वे अंदरखाने टूट चुके हैं।

किसी ने किए भंडारे तो किसी ने कराया टूर्नामेंट

चेयरमैनी हासिल करने के दावेदारों की फेहरिस्त काफी लंबी थी। तकरीबन हर नगर पालिका और नगर पंचायत में किसी न किसी दल से टिकट लेने वाले सक्रिय हो चुके थे। आलम यह था कि कहीं कोई मठ-मंदिरों पर भंडारे करा रहे थे तो कहीं युवाओं को जोड़ने के लिए क्रिकेट टूर्नामेंट के आयोजक भी दावेदार बनने लगे थे। इतना ही नहीं यज्ञ से लेकर सामाजिक कार्यक्रमों में भी लोग खुलकर सामने आ रहे थे। हालांकि सूची जारी होने के बाद से ही आरक्षण से बाहर हुए दावेदार अब खुद को समेटने लगे है।

हर सीट पर खिलेगा कमल : राजीव

भाजपा जिला अध्यक्ष राजीव गुप्ता का कहना है कि आरक्षण सूची के हिसाब से अब प्रत्याशी तय किए जाएंगे। हर सीट पर कमल खिलेगा। रही बात टिकट के दावेदारों की दौड़ की तो संगठन में अनुशासन हावी है और जिसे भी टिकट मिलेगा, बाकी के सभी दावेदार उसे ही चुनाव लड़ाएंगे। हर हाल में भाजपा की हर सीट पर जीत तय है।

शासन की नीति भेदभाव पूर्ण : प्रेम पाल

सपा जिला अध्यक्ष प्रेम पाल सिंह यादव का सीधा आरोप है कि शासन स्तर से जो आरक्षण सूची जारी हुई है। वह भेदभाव पूर्ण है।इसमें हर तरीके से यही साजिश की गई है कि सपा को नुकसान पहुंचे। हालांकि, जनता को यह खेल समझ आ चुका है और हर हाल में सभी सीटों पर समाजवादी पार्टी का परचम लहरायेगा। रही बात टिकट की तो यह फैसला हाईकमान स्तर से होगा।

खबरें और भी हैं...