बड़ौत का किशोरी शाहनुमा हत्याकांड:25,000 हजारी के इनामी के मकान की पुलिस ने की कुर्की की तैयारी, मकान पर चस्पा किया नोटिस

बडौतएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

बड़ौत के शेखपुरा गांव में ‌रिटायर्ड फौजी को फंसाने के लिएं एक युवक ने अपनी ही चचेरी बहन को मौत के घाट उतार दिया था। आरोपी की गिरफ्तारी न होने पर गत माह एसपी ने फरार आरोपी पर 25 हजार का इनाम घोषित कर दिया था। सोमवार को बिनौली पुलिस ने आरोपी के मकान पर नोटिस चस्पा कर कुर्की की तैयारियां शुरू कर दी है।

उल्लेखनीय है कि गत नौ जनवरी को ही शाहनूमा का शव बोरे में रिटायर्ड फौजी सन्नवर के मकान की छत पर मिला था। बाद में पुलिस अफसरों ने शाहनूमा के चचेरे भाई शकील के साथी एजाज निवासी मुस्तफाबाद (गाजियाबाद) को गिरफ्तार कर केस का राजफाश किया था। पुलिस अफसरों ने दावा किया था कि रिटायर्ड फौजी सन्नवर से शाहनूमा के परिजन रंजिश रखते हैं। उन्हें केस में फंसाने के लिए आरोपी शकील ने अपने साथी एजाज के साथ मिलकर तहेरी बहन शाहनूमा की गला दबाकर हत्या की तथा किशोरी के शव को सन्नवर के मकान की छत पर डाल दिया था।

घटना की साजिश में युवक नाजिम भी शामिल रहा था। पुलिस आरोपी एजाज और नाजिम को गिरफ्तार कर चुकी है, लेकिन शकील फरार है। गत माह एसपी नीरज कुमार जादौन ने फरार आरोपी पर 25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया था। सोमवार को एसपी के निर्देश पर बिनौली पुलिस ने आरोपी के घर पहुंचकर उसके मकान पर कुर्की का नोटिस चस्पा कर दिया है। यदि आरोपी जल्द गिरफ्तार नहीं हुआ तो उसके मकान की कुर्की की जाएगी।

खबरें और भी हैं...