बागपत में छत से गिरकर युवक की मौत:बंदर भगाने के दौरान फिसला पैर, दिल्ली में चल रहा था इलाज

बागपत2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
यह तस्वीर प्रमोद की है। बंदर भगाने के दौरान छत से गिरकर इसकी मौत हो गई है। - Dainik Bhaskar
यह तस्वीर प्रमोद की है। बंदर भगाने के दौरान छत से गिरकर इसकी मौत हो गई है।

बागपत में बंदरों को भगाने के दौरान एक युवक छत से गिरकर गंभीर रूप से घायल हो गया। परिजन घायल को दिल्ली के अस्पताल ले गए, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

मामला बागपत के रटौल गांव का है। यहां का प्रमोद पुत्र दिनेश शनिवार सुबह छत पर बंदरों के झुंड को भगाने के लिए गया था। इसी दौरान उसका पैर फिसल गया और छत से नीचे गिर गया। इसमे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। घायल अवस्था में परिजन उसे दिल्ली के गुरु तेग बहादुर अस्पताल ले गए, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

ग्रामीणों ने की बंदर पकड़वाने की मांग

ग्रामीणों का कहना है कि कस्बे में बंदरों का आतंक ज्यादा बढ़ गया है। आए दिन बंदर स्थानीय लोगों को काटकर घायल कर रहे हैं। कई बार अधिकारियों से बंदरों को पकड़वाने की मांग कर चुके हैं, लेकिन समस्या का समाधान नहीं हुआ। उन्होंने अधिकारियों से गांव में बंदर पकड़वाने की की मांग की है।

खबरें और भी हैं...