राष्ट्रपति का चुनाव लड़ना चाहता है रिटायर्ड फौजी:डीएम को सौंपा ज्ञापन, बोला-आम आदमी के पास हो प्रस्तावक बनाने का अधिकार, भूख हड़ताल की चेतवानी

बागपत3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अगर आम आदमी राष्ट्रपति का चुनाव लड़ सकता है, तो आम आदमी प्रस्तावक नहीं बन सकता है। यह कहना है बागपत रहने वाले रिटायर्ड फौजी सुभाष कश्यप का। दरअसल, वह राष्ट्रपति चुनाव लड़ना चाहते हैं। इसके लिए उन्होंने डीएम को ज्ञापन सौंपा और पीएम से वार्ता कराने की मांग की है। फौजी ने कहा कि अगर उसकी मांग नहीं मानी गई, तो भूख हड़ताल करेगा।

फौजी का कहना है कि उसने पिछली बार भी चुनाव लड़ने के लिए पर्चा भरा था, लेकिन प्रस्तावक नहीं मिलने पर उसे खारिज कर दिया था। इस बार वह चुनाव लड़ना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि अगर आम आदमी चुनाव लड़ सकता है, तो आदमी प्रस्तावक क्यों नहीं बन सकता है। आम आदमी को भी प्रस्तावक बनाया जाए।

ये तस्वीर रिटायर्ड फौजी सुभाष कश्यप की है। फौजी कलेक्ट्रेट में ज्ञापन सौंपने गया है।
ये तस्वीर रिटायर्ड फौजी सुभाष कश्यप की है। फौजी कलेक्ट्रेट में ज्ञापन सौंपने गया है।

मांग पूरी न होने पर धरने पर बैठने की चेतावनी
रिटायर्ड फौजी सुभाष कश्यप वाजिदपुर गांव का रहने वाला है। रिटायर्ड फौजी सुभाष कश्यप का कहना है कि उसने पिछली बार के चुनाव में भी चुनाव लड़ने की कोशिश की थी, लेकिन सांसद और विधायक ही प्रस्तावक होने के कारण वह चुनाव नहीं लड़ सका था। उसने कहा है कि अगर उसकी मांग नहीं मानी गई तो वह कल से कलेक्ट्रेट परिसर में धूप में बैठकर धरना प्रदर्शन और भूख हड़ताल कर राष्ट्रपति चुनाव की प्रक्रिया को रद्द कराने का प्रयास करेगा।

खबरें और भी हैं...