बागपत में पुलिस बल पर हुआ पथराव:चर्म शोधन इकाई को हटवाने गई थी पुलिस,पथराव में कई पुलिसकर्मी घायल

बागपत16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बागपत। जनपद के दोघट थाना क्षेत्र के भड़ल गांव में वर्षों से चल रही चर्म शोधन इकाई को एनजीटी के आदेश पर हटवाने शनिवार को राजस्व विभाग की टीम सहित पुलिस बल गांव में पहुंचा। गांव में चर्म शोधन इकाई को हटवाने का कार्य शुरु किया तो ईकाई संचालकों ने इसका पुरजोर विरोध किया। जिससे वहां पर पुलिस फोर्स व एनजीटी टीम पर इकाई संचालको ने जमकर पथराव कर दिया। जिसमें कई पुलिस कर्मी चोटिल भी हो गए। जेसीबी मशीन के शोशे भी तोड़ दिए गए।

ध्वस्तीकरण कार्य तेजी से किया गया
विरोध के बाद टीम को पीछे हटना पड़ा। सूचना पर आसपास क्षेत्र से कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंची और ईकायों का ध्वस्तीकरण कार्य तेजी से किया गया। इस दौरान सीओ व एसडीएम बडौत भी मय पुलिस बल मौके पर पहुंचे। फिलहाल पुलिस ने आधा दर्जन लोगों को हिरासत में ले लिया है और कानूनी कार्रवाई में जुट गई है। भड़ल गांव में तकरीबन 85 ईकायों में चर्म शोधन का काम चल रहा था। उन्हें बंद कराने के लिए सामाजिक कार्यकर्ता जितेन्द्र राणा ने एनजीटी में शिकायत की थी। एनजीटी के आदेश पर शनिवार को एसडीएम बडौत पूजा चौधरी, सीओ बडौत युवराज सिहं व प्रदुषण बोर्ड नियंत्रण मेरठ के अवर अभियांता सतेन्द्र प्रताप सिंह के नेतृत्व में राजस्व व प्रदूषण बोर्ड की टीम के साथ भारी पुलिस बल भड़ल गांव में चर्म शोधन ईकायों को हटवाने पहुंचे। जहां पर जेसीबी से ईकायों को ध्वस्त करने का काम शुरू किया तो लोगों ने इसका विरोध कर दिया।

लोगों का आक्रोश फूट पड़ा ​​​​​​​
विरोध करने पर पुलिस ने बल प्रयोग किया। इस पर लोगों का आक्रोश फूट पड़ा। लोगों ने पुलिस व प्रशासन की टीम पर पथराव कर दिया । जिसमें कई पुलिस कर्मी गम्भीर रूप से चोटिल हो गए। जिन्हें आनन फानन में उपचार के लिए अस्पताल भेजा गया। लोगों का आक्रोश देखकर टीम को पीछे हटना पड़ा। सूचना पर कई थानों की फोर्स व पीएसी मौके पर पहुंची । पुलिस ने आधा दर्जन लोगों को हिरासत में लिया। भारी पुलिस बल के साथ दोबारा से चर्म शोधन ईकायों के ध्वस्तीकरण कार्य शुरू हुआ। देर शाम तक वहां पर बनी सभी 85 ईकायों को ध्वस्त कर दिया गया। दोबारा काम करने पर सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी गई।एसडीएम बड़ौत पूजा चौधरी का कहना है कि एनटीजी के आदेश पर भड़ल गांव में चर्म शोध ईकायों को ध्वस्त कराने का कार्य किया गया। कार्य में बाधा डालने वाले लोगों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...