बागपत पहुंची केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी:बोलीं- RLD को वोट पड़ा तो लाल टोपी वालों की सरकार होगी, सपा की सरकार में कई बेटियों को जलील किया गया था

बागपत5 महीने पहले
बागपत में आयोजित कार्यक्रम में भाग लेने पहुंची केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी।

उत्तर प्रदेश के जनपद बागपत की छपरौली विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी सहेन्द्र सिंह रमाला के जनसम्पर्क कार्यक्रम में दोघट गांव में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पहुंची उन्होंने जनसभा में संबोधन से पहले भारत रत्न लता मंगेशकर के निधन पर दो मिनट का मौन रखकर नमन किया। उसके बाद उन्होंने समाजवादी पार्टी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा सभी वर्गों को साथ लेकर चलती है। बिना भेदभाव के विकास करती है। विपक्षी दलों ने हमेशा प्रदेश के लोगों को गुमराह करने का काम किया है। भाजपा ही एक ऐसी पार्टी है जो विकास की नीति पर चल कर काम करती है ।
सारी बहनें एक साथ हो जाती हैं
मंच से स्मृति ईरान ने कहा सहेन्द्र जी को बहनों की तरफ से बता दूं। जब बात इज्जत पर आती है तो सारी बहनें एक हो जाती है ना धर्म ना जाति। इकट्ठे हम एक ही कमल के निशान के पीछे हैं। हमारी वही पहचान है । भारत माता की जय ।

कार्यक्रम को संबोधित करतीं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी।
कार्यक्रम को संबोधित करतीं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी।

सपा नेताओं ने कहा था और भी मारते राम भक्त
उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी के नेताओं से जब पूछा गया था कि निर्दोष राम भक्तों पर गोलियां क्यों चलवाई तो सपा नेताओं ने कहा था कि अगर मारना होता तो और मारते। इसलिए सहेन्द्र जी के लिए मात्र वोट मांगने नही आई हूं । हर उस राम भक्त के लिए वोट मांगने आई हूं जिनको सपा सरकार ने मौत के घाट उतार दिया था।
यहां कई परिवार की बेटियों को जलील किया गया
केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि आपको लगता होगा कि प्रत्याशी हैंडपंप लेकर घूम रहा है और साइकिल की बात कर रही हूं।, लेकिन RLD को अगर वोट पड़ा और समर्थन मिला तो लाल टोपी वालों की सरकार होगी। औरतों ने तो कह दिया है कि सपा रालोद गठबंधन की सरकार नहीं बनने देंगे। अब मैं सुनने आई हूं कि भाइयों का क्या कहना है। औरतों ने इसलिए कहा क्योंकि यहां कई परिवारों की बेटियों का जलील किया गया था।
किसी ने नहीं सोचा था कि सपा-रालोद एक साथ आ जाएंगे
उन्होंने कहा कि किसी ने विश्वास नहीं किया था कि एक दिन हैंडपंप और साइकिल एक साथ चल पड़ेंगे। किसी ने ये सोचा नहीं था, जिन लोगों ने समाज के गरीब को प्रताड़ित किया। एक दिन RLD उनके साथ उनके खेमे में जाकर के खड़ा हो जाएगी। आज मंच से कहना चाहती हूं कि ये चुनाव मात्र सहेन्द्र सिंह का चुनाव नही है। ये चुनाव हर उस परिवार का चुनाव है जो अपनी बेटी को बेइज्जत होते नहीं देखना चाहता है।