नानपारा में सशस्त्र सीमा बल ने मनाया शहीद दिवस:मुख्यालय पर किया गया आयोजन, शहीदों की याद कर आंखें हुईं नम

नानपाराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सशस्त्र सीमा बल के कार्यक्रम में शिरकत करने जाते अधिकारी - Dainik Bhaskar
सशस्त्र सीमा बल के कार्यक्रम में शिरकत करने जाते अधिकारी

42वीं वाहिनी सशस्त्र सीमा बल द्वारा मुख्यालय पर पुलिस शहीद दिवस मनाया गया। इस अवसर पर एसएसबी 42वीं वाहिनी के कार्यवाहक कमांडेंट अनुज कुमार एवं 59वीं वाहिनी के कमांडेंट स्वर्णजीत शर्मा द्वारा राष्ट्र की सुरक्षा में सर्वोत्तम त्याग तथा बलिदान करने वाले अमर शहीदों को श्रधासुमन अर्पित कर श्रदांजलि दी गयी।

42 वीं वाहिनी द्वारा शहीदों को गार्ड ऑफ ऑनर (सम्मान) दिया गया। पुलिस शहीद दिवस के मौके पर 42वीं वाहिनी के शहीद जवान विजय कुमार और 59वीं वाहिनी के शहीद जवान घनश्याम सिंह गुर्जर के साथ शहीदों को स्मरण किया गया। 42वीं वाहिनी के शहीद विजय कुमार वर्ष 2018 में जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में कानून एवं व्यस्था ड्यूटी मे तैनात थे।

2018 में आतंकियों की गोलीबारी में हुए थे शहीद

दिनांक 21.10.2018 को आतंकवादियों की जबाबी गोलीबारी में शहीद हो गए थे। यह कार्यक्रम शहीद विजय कुमार वाटिका में मनाया गया। कमांडेंट ने पुलिस शहीद दिवस के इतिहास तथा महत्व पर प्रकाश डालते हुए बताया कि 21 अक्तूबर 1959 को 10 पुलिस कार्मिकों ने अपना सर्वोच्च बलिदान दिया था। उनकी याद में यह दिवस मनाया जाता है। उन्होंने बताया कि राष्ट्र सुरक्षा हेतु प्राणों की आहुति देने वाले ये अमर शहीद हमारे लिए प्रेरणास्रोत हैं।

ये अधिकारी मौके पर रहे मौजूद

आज के दिन हम उन अमर शहीदों से प्रेरणा लेकर प्रण लेते हैं कि अपने कर्तव्य निर्वहन में सदैव सत्यनिष्ठा व कर्तव्य परायणता के साथ तत्पर रहेंगे। कमांडेंट सहित सभी अधिकारी एवं बल कार्मिकों ने पुष्प अर्पित कर शहीद शहीदों को श्रद्धांजलि दी। इस मौके पर श्री स्वर्णजीत शर्मा, कमांडेंट, 59वीं वाहिनी, श्री अनुज कुमार, कार्यवाहक कमांडेंट, 42वीं वाहिनी, श्री शेखर बजाज, उप कमांडेंट, श्री वैभव उप कमांडेंट श्री राज कुमार, सहायक कमांडेंट सहित सभी बलकार्मिक एवं महिला बल कार्मिक उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...