बहराइच...जान बचाने के लिए तेंदुए से भिड़ गए किसान:5 मिनट तक चली 2 किसानों की तेंदुए के साथ जंग, खेतों में काम करने गए थे; इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती हुए

बहराइच8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बाएं से 32 वर्षीय  प्रेम चंद और 24 वर्षीय श्रवन। - Dainik Bhaskar
बाएं से 32 वर्षीय प्रेम चंद और 24 वर्षीय श्रवन।

बहराइच में कतर्नियाघाट वन्य जीव प्रभाग के देवनपुर गांव में खेत में काम कर रहे किसानों पर तेंदुए ने हमला कर दिया। किसान साहस का परिचय देते हुए तेंदुए से भिड़ गए। लगभग 5 मिनट की जद्दोजहद के बाद तेंदुए को जंगल की ओर भागना पड़ा, लेकिन तब तक दोनों किसान गंभीर रूप से घायल हो गए। जिन्हें इलाज के लिए नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। घटना की सूचना ग्रामीणों ने वन विभाग को दे दी है।

खेतों में काम कर रहे थे किसान

कतर्नियाघाट वन्य जीव प्रभाग के ककरहा रेंज अन्तर्गत ग्राम देवनपुर बेझा निवासी 32 वर्षीय प्रेम चंद और 24 वर्षीय श्रवन जंगल से सटे अपने धान के खेत मे दवा का छिड़काव कर रहे थे। तभी जंगल से निकलकर आये तेंदुए ने हमला बोल दिया। तेंदुए के हमले में दोनों किसान खेत में गिर गए, लेकिन साहस को बरकरार रखा। दोनो किसानों ने अपनी जान बचाने के लिए तेंदुए से भिड़ गए और चिल्लाने लगे।

आसपास के लोग शोर सुनकर पहुंचे

तभी आसपास के लोग भी दौड़ पड़े। हो हल्ला सुनकर तेंदुए को जंगल की ओर भागना पड़ा, लेकिन तब तक दोनों किसानों को काफी चोट आ गई। ग्रामीणो ने घटना की जानकारी वन कर्मियों को दी। जिसके बाद वन दारोगा अलोकमणि तिवारी द्वारा घायलो को तत्काल सीएचसी मोतीपुर ले जाया गया। जहां पर उनका इलाज चल रहा है। डीएफओ ने बताया कि घायल किसानों को मुआवजा दिलाया जाएगा।

खबरें और भी हैं...