पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Bahraich
  • Mata Prasad Said In Bahraich: Instead Of Development, BJP Does The Politics Of Communalism, If The State Has To Progress, Then The SP Government Will Have To Be Formed.

बहराइच में माता प्रसाद बोले:विकास के बजाए सांप्रदायिकता की राजनीति करती है भाजपा, प्रदेश की तरक्की लानी है तो बनानी होगी सपा सरकार

बहराइच18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
समाजवादी बुद्धिजीवी सम्मेलन का आयोजन किया गया। - Dainik Bhaskar
समाजवादी बुद्धिजीवी सम्मेलन का आयोजन किया गया।

बहराइच में महसी विधानसभा के तेजवापुर ब्लाक के रमपुरवा चौकी स्थित मैदान में सोमवार को समाजवादी पार्टी के तत्वावधान में समाजवादी बुद्धिजीवी सम्मेलन का आयोजन किया गया। सम्मेलन में पार्टी के दिग्गज ब्राह्मण नेताओं ने ब्राह्मणों को अपने पाले में लाने के लिए जोरदार भाषण दिया। मुख्य अतिथि पूर्व विधानसभा अध्यक्ष उत्तर प्रदेश माता प्रसाद पांडेय रहे। संचालन मुलायम यूथ बिग्रेड के जिलाध्यक्ष अजितेश पांडेय एवं उमेश्वर पांडेय ने किया।

सम्मेलन को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि ने कहा कि भाजपा सरकार सिर्फ समाजवादी सरकार के किये गए कार्यों का शिलान्यास कर रही है। भाजपा सरकार सिर्फ जुमलेबाजों की सरकार है। भाजपा सरकार में बेरोजगारी, अपराध, भरस्टाचार, मंहगाई चरम पर है। आम जनता त्रस्त है। कोरोनाकाल में सरकार की लापरवाही से आम जनता की जानें चली गई। यदि विकासवाद की राजनीति करनी है, प्रदेश में तरक्की लानी है तो भाजपा सरकार को हटाकर 2022 में सपा सरकार को बनाना होगा। तभी ब्राह्मण समेत सभी वर्गों एवं धर्मों के लोगों का सम्मान होगा। भाजपा सरकार में किसानों की खेती व उपज का मूल्यांकन नहीं है। किसान परेशान है।

100 दिनों के बाद भाजपा की सरकार चली जाएगी

मुख्यमंत्री ने अपने ऊपर दर्ज सभी मुकदमे वापस लिए। ऐसे कई लोगों के 20 हजार मुकदमे वापस लेने के बावजूद खुशी दूबे का मुकदमा वापस नहीं लिया। 100 दिनों के बाद भाजपा की सरकार चली जायेगी। अखिलेश के मुख्यमंत्री बनते ही 900 विप्र हत्याओं की सीबीआई जांच करवाई जाएगी। सरकार बनते ही भाजपा ने विप्र विरोध का कार्य शुरू करते हुए पंडित हरिशंकर तिवारी के यहां छापेमारी शुरू करवाई थी। समाजवादी पार्टी भगवान परशुराम की 108 फीट ऊंची मूर्ति लगाने का कार्य करेगी।

संवैधानिक सजा देने के बजाए विकास दूबे की हत्या कराई

प्रबुद्ध वर्ग के साथ समता का अधिकार जरूरी है। पूर्व विधायक संतोष पांडेय ने कार्यकर्ताओं को अवधी भाषा में संबोधित करते हुए कहा कि सपा सरकार ने भगवान परशुराम के जयंती पर अवकाश घोषित किया। लेकिन भगवान परशुराम को भाजपा सरकार ने महापुरुष बताकर छुट्टी खत्म कर दी। भाजपा सरकार ने आत्मसमर्पण करने वाले विकास दूबे को संवैधानिक सजा देने के बजाए विकास दूबे की हत्या कराई। सपा सरकार में नौ कैबिनेट मंत्री ब्राह्मण थे जबकि 23 विधायक ब्राह्मण थे। प्रदेश का भाजपा मुख्यमंत्री जातिवाद को अपना रहा है।

पूर्व मंत्री तेजनरायन पांडेय उर्फ पवन पांडेय ने कहा भाजपा सरकार ने खुशी दूबे के साथ असंवैधानिक कृत्य किये। भाजपा सरकार पूरी तरह से विप्र विरोधी सरकार है। अगर हम राम व परशुराम दोनों का पूजन करते हैं तो दर्द भाजपाइयों को होता है।

ये लोग रहे मौजूद

सम्मेलन को पार्टी के वरिष्ठ जिलाध्यक्ष रामहर्ष यादव, वरिष्ठ उपाध्यक्ष जफरउल्ला खां, पूर्व विधायक सब्बीर वाल्मीकि, पूर्व एमएलसी रमजान, उपाध्यक्ष देवेशचंद्र मिश्र मजनू, पूर्व जिलाध्यक्ष लक्ष्मीनारायण यादव, समाजवादी चिंतक डॉ राधेश्याम वर्मा, निशा शर्मा, पूर्व प्रत्यासी महसी डॉ राजेश तिवारी, जिपंस प्रतिनिधि सुंदरलाल बाजपेई, ने कार्यकर्ताओं व ग्रामीणों को भाजपा सरकार को आड़े हाथों लेते हुए समाजवादी पार्टी के गत कार्यकाल में किये गए विकासकार्यों से रुबरु कराया। इस दौरान महसी विधान सभा अध्यक्ष मोहम्मद आसिफ, आनंद यादव, ओम जी यादव, महेश्वरी पांडेय, करुणा शंकर दीक्षित, पेशकार राव, महेंद्र पांडेय, आंजनेय बाजपेई मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...