UP के मंत्री बोले- मदरसों में आतंकवाद:आनंद स्वरूप ने कहा- मदरसों को आधुनिक बनाना चाहते हैं, पर वहां आतंकवाद की शिक्षा बंद करनी होगी

बलिया8 महीने पहले
गुरुवार को मंत्री उपेंद्र तिवारी ने कहा था कि देश की 95% जनता डीजल-पेट्रोल का उपयोग नहीं करती है। अब आनंद स्वरूप ने विवादित बयान दिया है।

बलिया में शुक्रवार को योगी सरकार में संसदीय कार्य राज्यमंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला ने मदरसों को लेकर विवादित बयान दिया। मंत्री ने कहा कि मदरसों को हम आधुनिक बनाना चाहते हैं। वहां पर आतंकवाद की शिक्षा बंद कर विज्ञान, गणित, कंप्यूटर और संस्कृत का ज्ञान देना चाहते हैं। अगर वो केवल अपनी दीनी तालीम हासिल करने के लिए प्रयास करेंगे, तो निश्चित रूप से हमारा प्रयास होगा कि उनको भी आम बच्चों की तरह सभी विषयों की शिक्षा मिले। जो मदरसे हमारे शिक्षा अभियान से जुड़ेंगे, उनको हम सहायता भी देते हैं। उन्हें आधुनिक करने के लिए हमारी सरकार योजनाएं भी चलाती है।

हमारी शर्तों को नहीं मानेंगे तो योजनाओं से रहेंगे वंचित
राज्यमंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला अपने आवास पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। पत्रकारों ने जब राज्यमंत्री से पूछा कि जब से बीजेपी की सरकार बनी है, तब से मदरसों के शिक्षकों को वेतन नहीं मिला है। इस पर मंत्री ने कहा कि जो भी मदरसे हमारी शर्तों को नहीं मानेंगे, तो निश्चित रूप से सरकार से जो भी लाभ उनको मिलना चाहिए, वह नहीं मिल पाएगा।

मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला ने मदरसों को लेकर दिया विवादित बयान।
मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला ने मदरसों को लेकर दिया विवादित बयान।

मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला का राजनीतिक सफर
राज्यमंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला साधारण परिवार से ताल्लुक रखते हैं। उनके पिता सरकारी शिक्षक थे और रिटायर होकर मंदिर में पूजा-पाठ करते हैं। आनंद स्वरूप शुक्ला छात्र जीवन से ही RSS और ABVP से जुड़ गए थे। बलिया के सतीश चंद्र डिग्री कॉलेज में 1997-98 में छात्रसंघ का चुनाव जीते। 2017 के विधानसभा चुनाव में भाजपा ने उन्हें बलिया सदर विधानसभा सीट से प्रत्याशी बनाया था। चुनाव में उन्होंने सपा प्रत्याशी लक्ष्मण गुप्ता को 40,011 वोटों से हराया।

जालौन में मंत्री उपेंद्र तिवारी ने पेट्रोल-डीजल के लेकर दिया था बयान।
जालौन में मंत्री उपेंद्र तिवारी ने पेट्रोल-डीजल के लेकर दिया था बयान।

मंत्री उपेंद्र तिवारी ने कहा- डीजल-पेट्रोल के दाम कम
बढ़ती महंगाई के बीच यूपी में खेल युवा कल्याण व पंचायती राज मंत्री उपेंद्र तिवारी ने गुरुवार को एक बेतुका बयान दिया था। जालौन में उन्होंने कहा था कि देश की 95% जनता डीजल-पेट्रोल का उपयोग नहीं करती है। कुछ ही लोग डीजल-पेट्रोल का उपयोग करते हैं। देश में डीजल-पेट्रोल के दामों में किसी प्रकार की कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है। विपक्ष इसका प्रोपेगैंडा बनाने में लगा हुआ है। उन्होंने कहा था कि देश में लोगों की आमदनी बढ़ी है। उस हिसाब से डीजल-पेट्रोल के दाम बहुत कम हैं।