बलिया में 8 दिन बाद दर्ज हुई रेप की एफआईआर:25 नवंबर को दी थी तहरीर, एसपी के आदेश पर 2 लोगों पर दर्ज हुआ मुकदमा

बलिया7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पीड़िता की तहरीर पर 2 लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया गया। - Dainik Bhaskar
पीड़िता की तहरीर पर 2 लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया गया।

बलिया के नगरा थाना क्षेत्र के किशोरी के साथ गांव के ही युवक ने हथियार के बल पर दुष्कर्म करता रहा। किशोरी के गर्भवती हो जाने पर दबंगई दिखाते हुए युवक ने अबॉर्शन भी करा दिया। बावजूद इसके आधी रात को भी महिलाओं को सुरक्षित रहने का दावा करने वाले प्रदेश में पीड़ित किशोरी को मुकदमा दर्ज कराने के लिए आठ दिनों से थाने का चक्कर काटना पड़ा। पीड़ित ने घटना की तहरीर 25 नवम्बर को ही पुलिस को दे दी है।

पुलिस अधीक्षक राजकरण नय्यर ने इस मामले को गंभीरता से लिया तो उन्होंने इसकी जांच सीओ रसड़ा शिवनारायण वैश्य को जांच रिपोर्ट जिम्मेदारी दी गई जांच के आधार पर मामला सत्य पाया गया और पीड़िता की लिखित तहरीर के आधार पर धारा 376 D एवं 5 / 6 पास्को एक्ट के तहत 2 लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया गया ।

विरोध पर हथियार के दम पर धमकाया

किशोरी ने पुलिस को दिए तहरीर में कहा है कि गांव का एक युवक उसके साथ लगातार बलात्कार करता रहा है। जब उसका बच्चा मेरे पेट में पलने लगा तो मै उसका विरोध करने लगी। जिस पर वह हथियार के बल पर मुझे धमकाता रहता था। जब मेरे पिता इसका विरोध किए तो उन्हें भी हथियार दिखा कर धमकाया, जिससे उनकी हार्ट अटैक से मौत हो गई।

पीड़िता ने लिखा है कि पिता के मृत्यु के बाद भी दबंग नहीं माना और मेरी मां को धमका कर मेरा एबॉर्शन करा दिया। तहरीर में लिखा है कि दबंग व्यक्ति की दबंगई के वजह से मेरे परिजन काफी दहशतजदा है। पीड़िता ने पुलिस से उक्त दबंग व्यक्ति के खिलाफ कार्यवाही की गुहार लगाई थी।

खबरें और भी हैं...