• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Balrampur
  • Balrampur MLA Paltu Ram Took Oath As Minister: Said – Whatever Responsibility Has Been Given, I Will Fulfill It Well; Earlier Also Belonged To The People, In Future Also I Will Belong To Them.

बलरामपुर...विधायक पलटू राम ने ली मंत्री पद की शपथ:बोले- जो भी जिम्मेदारी मिली है, बखूबी निभाऊंगा; पहले भी जनता का था, आगे भी उन्हीं का रहूंगा

बलरामपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विधायक पलटू राम ने राज्यमंत्री बनाए गए। - Dainik Bhaskar
विधायक पलटू राम ने राज्यमंत्री बनाए गए।

यूपी में रविवार को भाजपा के मंत्रिमंडल का विस्तार किया जा रहा है। इसी क्रम में बलरामपुर जिले की सदर सीट से भारतीय जनता पार्टी के विधायक पलटू राम को राज्य मंत्री बनाए गए हैं। उन्होंने विधान भवन में मंत्रिमंडल की शपथ ली। उन्होंने कहा कि मुझे जो भी जिम्मेदारी मिली है, उसे बखूबी निभाऊंगा। मैं तब भी जनता का था और मंत्री बनने के बाद भी जनता का ही रहूंगा मैंने बलरामपुर विधानसभा से चुनाव लड़ा है, यहां की जनता ने मुझे सर पर बिठाया है और मैं यही अंतिम सांस भी लूंगा।

बता दें जिले में कुल 4 विधानसभा सीटें हैं। इन चारों सीटों पर बीजेपी का ही कब्जा है सदर विधानसभा सीट आरक्षित होने के चलते 2017 के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने गोंडा जिले के रहने वाले पलटू राम को अपना प्रत्याशी बनाया था।

गोंडा के रहने वाले हैं विधायक

पलटू राम मूलतः गोंडा परेड सरकार के निवासी हैं और पासी जाति से ताल्लुक रखते हैं। साल 2017 के चुनाव में पलटू राम ने जब जिले में चुनाव प्रचार शुरू किया तो विपक्षी दलों ने एक सुर में बाहरी प्रत्याशी होने का आरोप लगाते हुए यह प्रचार करना शुरू कर दिया कि चंद दिनों के लिए आए हैं और विधायकी जीतने के बाद गोंडा चले जाएंगे। फिर जिस किसी को भी मिलना हो गोंडा ही जाना पड़ेगा और बलरामपुर की विधायकी वहीं से चलेगी।

24860 वोटों से मिली थी जीत

आरोपों पर पलटू राम ने कहा था कि भारतीय जनता पार्टी ने मुझ जैसे छोटे से कार्यकर्ता पर अपना भरोसा जताते हुए बलरामपुर जैसे क्षेत्र जो पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की कर्मभूमि रही है, नानाजी देशमुख जैसे नेताओं की कर्मस्थली है, उस स्थान से मुझे चुनाव लड़ने का अवसर मिला है मैं जीतने के बाद कहीं नहीं जाऊंगा और इसी बलरामपुर में रहूंगा और यही पर अंतिम सांस भी लूंगा। पलटू राम के इन शब्दों का बलरामपुर की जनता पर कुछ खासा असर दिखाई पड़ा और बलरामपुर की जनता ने उन्हें 24860 वोटों से जीत दिलाई।

गठबंधन के प्रत्याशी को 64541 वोट मिले थे

साल 2017 के चुनाव में समाजवादी पार्टी और कांग्रेस का गठबंधन था जिले की सदर विधानसभा सीट गठबंधन के खाते में थी। यहां से कांग्रेस ने अपने पुराने कार्यकर्ता शिवलाल को टिकट दिया था। जबकि साल 2012 में विधायक रहे समाजवादी पार्टी के जगराम पासवान उनकी पूरी तरीके से मदद कर रहे थे।

बावजूद इसके गठबंधन का प्रत्याशी यहां से जीत नहीं सका। यहां गठबंधन के प्रत्याशी को 64541 वोट मिले, जबकि भाजपा के प्रत्याशी पलटू राम को यहां 89401 वोट मिले। ऐसे में गठबंधन के प्रत्याशी को पलटू राम ने 24860 वोटों से कड़ी शिकस्त देते हुए बलरामपुर की विधानसभा पर अपना झंडा बुलंद किया।

किसी विधायक को सपना नहीं आता है

विधायक पलटू राम बेहद ही सरल स्वभाव के माने जाते हैं सदर विधानसभा क्षेत्र में आने वाले तमाम बाढ़ ग्रस्त इलाकों में बीते दिनों बाढ़ के दौरान उन्होंने हर संभव मदद की। विधायक का कहना है कि किसी भी विधायक को यह सपना नहीं आता कि मेरे क्षेत्र की जनता बीमार है या उसे कोई तकलीफ है अगर आपको कोई कष्ट है तो एक बार मुझे फोन पर या मेरे कैंप कार्यालय पर आकर जरूर बताएं हर संभव उसका निस्तारण कराया जाएगा।

खबरें और भी हैं...