मां मुरादें पूरी कर दे:नए साल में बलरामपुर के शक्तिपीठ देवीपाटन मंदिर में उमड़े श्रद्धालु, देर रात से जारी है भक्तों के आने का सिलसिला

6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नए साल के पहले दिन सुबह से जुट रही भक्तों की भीड़। - Dainik Bhaskar
नए साल के पहले दिन सुबह से जुट रही भक्तों की भीड़।

बलरामपुर में नव वर्ष के पहले दिन शक्तिपीठ देवीपाटन मंदिर पर श्रद्धालुओं की भीड़ जुटी रही। दूर दराज से आए श्रद्धालुओं ने मां पाटेश्वरी के दर्शन कर मुरादें मांगी। वहीं, सुरक्षा व्यवस्था के लिए एसपी हेमंत कुटियाल के आदेश पर पुलिस बल की तैनाती रही।

माता के दर्शनों के लिए सुबह से जुटी है भीड़।
माता के दर्शनों के लिए सुबह से जुटी है भीड़।

नए साल के पहले दिन दर्शनों के लिए उमड़े श्रद्धालु
वहीं, 31 दिसंबर की देर रात तक दूर दराज से श्रद्धालु शक्तिपीठ देवीपाटन पहुंचे। श्रद्धालुओं ने मंदिर परिसर में ही स्थापित पवित्र सरोवर "सूर्य कुंड" में स्नान किया। इसके बाद भोर पहर से मां पाटेश्वरी का दर्शन शुरू कर दिए। श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए प्रशासन ने भी व्यापक इंतजाम किए हैं।
51 शक्तिपीठों में एक है देवीपाटन
शक्तिपीठ देवीपाटन मंदिर के महंत मिथिलेश नाथ योगी ने बताया कि श्रद्धालुओं के भारी भीड़ को देखते हुए मंदिर व प्रशासन ने साफ-सफाई और अलाव की भी व्यवस्था की गई है। शक्तिपीठ मंदिर देवीपाटन की गणना 51शक्तिपीठों में होती है। यहां देश के कोने कोने के अलावा नेपाल से भी श्रद्धालुओं का आवागमन पूरे वर्ष होता है। यह चैत्र व शारदीय नवरात्रि के समय एक माह का मेला लगता है। प्रदेश सरकार द्वारा यहां लगने वाले मेला को राजकीय मेले का दर्जा प्राप्त है। मंदिर की प्रशासनिक व्यवस्था गोरक्षनाथ मंदिर गोरखपुर की ओर से होती है।

खबरें और भी हैं...