बलरामपुर में पटाखा जलाने पर विवाद:दिवाली की आतिशबाजी में बच्चे को लगा रॉकेट, बवाल के बाद दो पक्षों में जमकर चले लाठी-डंडे; 8 घायल

बलरामपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बलरामपुर में पटाखा जलाने पर विवाद। - Dainik Bhaskar
बलरामपुर में पटाखा जलाने पर विवाद।

बलरामपुर जिले में दिवाली की रात जब हर कोई अपने-अपने तरीके से त्योहार मना रहा था, तब तुलसीपुर इलाके में पटाखा जलाने को लेकर दो पड़ोसियों में विवाद हो गया। देखते ही देखते विवाद खूनी संघर्ष में बदल गया। इस दौरान दोनों पक्षों में जमकर लाठी-डंडे चले, जिसमें आठ लोग घायल हो गए।

बच्चे की आंख में लगा रॉकेट

बता दें कि मामला तुलसीपुर थाना क्षेत्र से जुड़ा है। यहां पुरानी बाजार निवासी विजय प्रताप सोनी अपने घर पर रॉकेट (पटाखा) छोड़ रहे थे। तभी एक रॉकेट ने अपनी दिशा बदल ली और वह सीधे पड़ोस में रहने वाले विजय कुमार सोनी के बच्चे की आंख में लग गया। घटना के बाद विजय प्रताप के घर में हड़कंप मच गया। जानकारी होने के बाद दोनों पड़ोसियों के परिजन इकट्ठा हो गए और मामला गाली-गलौज से शुरू होकर मारपीट तक पहुंच गया। इस दौरान दोनों परिवारों के बीच जमकर लाठी-डंडे और धारदार हथियार चले।

दोनों पक्षों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज

मारपीट के दौरान विजय प्रताप सोनी गंभीर रूप से घायल हो गए, जिन्हें प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। शेष अन्य चार लोगों का उपचार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तुलसीपुर पर करके छुट्टी दे दी गई। वहीं विजय कुमार, जितेंद्र और मोहित के हाथ चोटें आई हैं। सीओ तुलसीपुर कुंवर प्रभात सिंह ने बताया कि थानाध्यक्ष तुलसीपुर आलोक राव को मौके पर भेजकर जांच कराई गई। दोनों तरफ से प्राप्त तहरीर के आधार पर तुलसीपुर थाने में सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज करा दिया गया है।

खबरें और भी हैं...