बलरामपुर...आज से शुरू हो जाएगी इंटरसिटी एक्सप्रेस:लोगों के आक्रोश को देखते हुए पूर्वोत्तर रेलवे ने लिया फैसला, राज्यमंत्री ने महाप्रबंधक से की थी मुलाकात

बलरामपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बलरामपुर में 2 से शुरू हो जाएगी इंटरसिटी एक्सप्रेस। - Dainik Bhaskar
बलरामपुर में 2 से शुरू हो जाएगी इंटरसिटी एक्सप्रेस।

बलरामपुर सहित 6 जिलों की लाइफ लाइन कही जाने वाली इंटरसिटी एक्सप्रेस को पूर्वोत्तर रेलवे ने बंद करने का फैसला लिया था। जिसके बाद तुलसीपुर क्षेत्र के रहने वाले समाजसेवी सुखदेव चौरसिया ने आगामी 3 दिसंबर से इस फैसले के खिलाफ भूख हड़ताल करने की चेतावनी दी थी। वहीं इंटरसिटी एक्सप्रेस बंद होने की सूचना से बलरामपुर सहित अन्य जिलों में भी आंदोलन की तैयारी चल रही थी।

राज्यमंत्री ने महाप्रबंधक से की थी मुलाकात

सैनिक कल्याण एवं होमगार्ड राज्यमंत्री ने पूरे मामले को लेकर पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक से मुलाकात कर उन्हें ट्रेन के अनवरत संचालन के लिए ज्ञापन सौंपा था। पूर्वोत्तर रेलवे ने समाजसेवी शुकदेव चौरसिया की मांग व राज्यमंत्री द्वारा सौंपे गए ज्ञापन सहित आमजन की सुविधा के लिए इंटरसिटी एक्सप्रेस ट्रेन के संचालन को आगामी 3 दिसंबर से पुनः पूर्व की भांति मंजूरी दे दी है।

गोरखपुर से लखनऊ तक जाती है इंटरसिटी

बता दें कि इंटरसिटी एक्सप्रेस गोरखपुर से लखनऊ ऐशबाग तक को जाती है। इंटरसिटी के इस रूट पर गोरखपुर, सिद्धार्थनगर, बलरामपुर, गोंडा, बाराबंकी व लखनऊ जैसे प्रमुख शहर आते हैं। यहां प्रतिदिन हजारों की संख्या में व्यापारी, बीमार व अन्य काम धंधे से जुड़े लोग इस ट्रेन से सफर करते हैं। सुबह यह ट्रेन सभी जिलों से होते हुए लखनऊ तक को जाती है और शाम को यही ट्रेन सभी जिलों से होते हुए गोरखपुर को लौटती है। इस ट्रेन से सफर करने वाले लोग सुबह निकलते थे और शाम और रात होते ही एक ही दिन में अपने घरों को लौट आते थे। जिससे उनका बहुत सारा समय बच जाया करता था।

समाजसेवी ने भूख-हड़ताल पर बैठने का फैसला लिया

इंटरसिटी एक्सप्रेस के संचालन बंद होने की सूचना पर तुलसीपुर के रहने वाले शुकदेव चौरसिया ने पूर्वोत्तर रेलवे के इंटरसिटी ट्रेन को बंद किए जाने के फैसले को वापस लेने के लिए पत्राचार किया। लेकिन पूर्वोत्तर रेलवे ने अपने फैसले में कोई तब्दीली नहीं की। जिसके बाद समाजसेवी सुकदेव चौरसिया ने भूख-हड़ताल पर बैठने का फैसला ले लिया था। उन्होंने आगामी 3 दिसंबर से भूख-हड़ताल पर बैठने की चेतावनी भी दी थी।

आम जनमानस ने जताया था विरोध

वहीं सोशल मीडिया और आम जनमानस में फैल रहे आक्रोश को देखते हुए जिले की बलरामपुर सदर विधानसभा सीट से विधायक एवं सैनिक कल्याण राज्य मंत्री पलटूराम की अगुवाई में गैंसड़ी विधानसभा सीट से विधायक शैलेश सिंह शैलू व तुलसीपुर विधानसभा सीट से विधायक कैलाश नाथ शुक्ला ने पूरे मामले को लेकर पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक विनय त्रिपाठी से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा था। ज्ञापन में इंटरसिटी ट्रेन के अनवरत संचालन की मांग की गई थी।

पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक द्वारा पूरे मामले में अब पत्र जारी कर बताया गया है कि आगामी 3 दिसंबर 2021 से 28 फरवरी 2022 तक के लिए इंटरसिटी एक्सप्रेस के संचालन पर रोक लगाने का फैसला लिया गया था। बावजूद इसके जनप्रतिनिधियों की मांग व आमजन के हितों को देखते हुए इंटरसिटी एक्सप्रेस के पुनः संचालन की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। आगामी 2 दिसंबर 2021 को पहली ट्रेन ऐशबाग से गोरखपुर के लिए रवाना होगी। उसी के ठीक बाद आगामी 3 दिसंबर 2021 को गोरखपुर से अनवरत इंटरसिटी एक्सप्रेस ट्रेन का संचालन शुरू कर दिया जाएगा।

जनहित में रेलवे का बेहतरीन कदम

पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक गोरखपुर के ट्रेन संचालन के फैसले को लेकर समाजसेवी शुकदेव चौरसिया ने बताया कि जनहित में यह बेहतर फैसला लिया गया है। लाखों व्यापारियों व बीमार मरीजों को लखनऊ पहुंचने के लिए यह ट्रेन लाइफ लाइन साबित होती है। इसका बंद होना किसी भी दशा में ठीक नहीं था। उन्होंने प्रशंसा करते हुए महाप्रबंधक पूर्वोत्तर रेलवे को धन्यवाद दिया है।

वहीं सैनिक कल्याण एवं होमगार्ड राज्यमंत्री पलटू राम ने पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक द्वारा लिए गए फैसले को जनहित में बताते हुए कहा इस ट्रेन का समय ऐसा है कि सुबह आप घर से निकलिए और शाम या रात होते-होते आप घर पहुंच जाएंगे। ऐसे में तमाम व्यापारियों बीमार मरीजों व अन्य लोगों को जिले से राजधानी तक के सफर के लिए कहीं भटकना नहीं पड़ता है। ट्रेन के पुनः संचालन होने से लोगों को इसका अनवरत लाभ मिलता रहेगा।

खबरें और भी हैं...