पूर्व सपा सांसद रिजवान ने जहर उगला:बलरामपुर में कहा- हम खैरात में नहीं हैं, बाबा की धोती खोलकर गोरखपुर तो ओवैसी को हैदराबाद भगाएंगे

बलरामपुर6 महीने पहले

बलरामपुर में पूर्व सपा सांसद रिजवान जहीर ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर विवादित बयान दिया है। रिजवान जहीर ने कहा कि 2022 विधानसभा चुनाव में सीएम योगी को धोती खोलकर गोरखपुर तो ओवैसी को हैदराबाद खदेड़ा जाएगा। रिजवान जहीर ने कहा, 'इस मुल्क में हमारे बाप-दादा ने कुर्बानी दी है। हम यहां खैरात में नहीं रह रहे हैं। आज मुसलमान को जो खतरा है, वो सिर्फ और सिर्फ मोदी और योगी से है'।

रिजवान जहीर ने कहा कि ये दोनों लोग हमारे ही मुल्क के हैं, कहीं बाहर से नहीं आए हैं- 'दोनों मिलकर इस मुल्क को खत्म कर देना चाहते हैं। इस मुल्क ने जितनी तरक्की 70 सालों में की थी और आने वाले 10 सालों में वो अपने मुकाम तक पहुंचने वाला था, उसे इन्होंने 7 सालों में खत्म कर दिया है। आज इस मुल्क की सबसे बदतर हालत हो गई है'।

समाजवादी पार्टी से सांसद रह चुके हैं रिजवान जहीर।
समाजवादी पार्टी से सांसद रह चुके हैं रिजवान जहीर।

किसान-ग्रामीण चौपाल का किया गया था आयोजन
बलरामपुर जिले के महदेईया बाजार में समाजवादी पार्टी ने बुधवार को किसान-ग्रामीण चौपाल का आयोजन किया था। इसमें पूर्व सांसद रिजवान जहीर भी पहुंचे थे। मंच से बोलते हुए उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ ओवैसी पर भी जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि आज यूपी में एक साहब हैं, जो सिर्फ हिंदुओं की बात करते हैं। एक साहब हैदराबाद से आए हैं, वो सिर्फ मुसलमानों की बात करते हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ रिजवान जहीर (दाएं)।
पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ रिजवान जहीर (दाएं)।

ओवैसी पर कार्रवाई नहीं करती भाजपा
रिजवान जहीर ने कहा कि उनकी पार्टी हमेशा से सेक्युलर राजनीति करती है। उन्होंने ओवैसी को यूपी में मेहमान बताते हुए कहा, 'आप हमारे यहां आए हैं। आपको यहां साग-भात खाने को मिलेगा। खाइए और चले जाइए। हैदराबाद से आए साहब लगातार बोले जा रहे हैं, उन पर कोई कार्रवाई नहीं होती है। लेकिन हम थोड़ा सा भी बोल देते हैं तो हम पर रासुका लगा दिया जाता है'। उन्होंने कहा कि बाबा हम रासुका से डरने वाले लोग नहीं हैं। इस बार आपकी धोती खोल कर आपको गोरखपुर भेजा जाएगा।

अतीक अहमद पर भी साधा निशाना
रिजवान जहीर ने अतीक अहमद पर भी हमला करते हुए कहा कि बड़ी-बड़ी मूछें रखकर हिंदू-मुस्लिम करने एक साहब बलरामपुर आए थे। उनको भी खदेड़ कर मैंने इलाहाबाद पहुंचा दिया था। उन्होंने हरिशंकर तिवारी पर भी हमला करते हुए कहा कि बहुत बंदूकें और एक हजार गाड़ियों के साथ यहां चुनाव लड़ने आए थे। हमने उनको भी खदेड़ कर गोरखपुर पहुंचा दिया था।

तुलसीपुर विधानसभा क्षेत्र से विधायक भी रह चुके हैं रिजवान जहीर।
तुलसीपुर विधानसभा क्षेत्र से विधायक भी रह चुके हैं रिजवान जहीर।

जानिए कौन हैं रिजवान जहीर
रिजवान जहीर साल 1989 में निर्दलीय, 1993 में सपा और 1996 में बसपा से तुलसीपुर विधानसभा क्षेत्र से विधायक चुने गए थे। साल 1998 व 1999 में सपा से वह श्रावस्ती लोकसभा से सांसद भी रहे हैं। रिजवान जहीर ने1999 के बाद मुलायम सिंह यादव को सीधा चैलेंज करते हुए कहा कि रिजवान जहीर को किसी पार्टी की जरूरत नहीं है। रिजवान जहीर खुद में पार्टी है और मुलायम सिंह यादव चाहे तो मेरे सामने चुनाव लड़ कर देख लें, उन्हें भी हार ही हाथ लगेगी। तब से रिजवान जहीर ने एक भी चुनाव नहीं जीता है। फिलहाल, वो अब सपा में दोबारा शामिल हो चुके हैं।

खबरें और भी हैं...