ट्रिपल मडंर मिस्ट्री:सोने के सिक्कों से भरा घड़ा देने का लालच देकर कराती थी खर्च, इसलिए मार डाला

बलरामपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गिरफ्तार आरोपी ने पुलिस को बताई हत्या की वजह

मध्यप्रदेश से गिरफ्तार पत्नी व प्रेमिका के हत्या के आरोपी ने पुलिस पूछताछ में बताया कि उसने प्रेमिका की हत्या इसलिए की क्योंकि उसने उसे कहा था कि वह एक घड़ा सोने का सिक्का उसे देगी और उसे यह लालच देकर अधिक पैसा खर्च कराती थी। आर्थिक तौर परेशान आरोपी आखिर में तंग आकर समोसा व चटनी खिलाया। उसने चटनी में नींद की गोली मिला दी थी, जब वह नींद में आ गई तो वह गला रेतकर उसकी हत्या कर दी। वहीं पत्नी गायत्री का अपने पिता से अवैध संबंध होने के शक में मार डाला। पत्नी को भी उसने नींद की गोली खिलाई और चाकू से उसका गला रेत दिया। वहीं साथ में अपनी बेटी किरण की भी हत्या कर दिया।

आरोपी छत्रपति वर्मा अपने प्रेमिका ललिता देवांगन का वाड्रफनगर किराये के मकान में तथा अपनी पत्नी गायत्री वर्मा व बेटी किरन की बेरहमी से गला रेत कर हत्या कर शव को घर में ही बंद कर फरार हो गया था। पुलिस अधीक्षक रामकृष्ण साहू ने आरोपी छत्रपति वर्मा की गिरफ्तारी के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुशील कुमार नायक के मार्गदर्शन व पुलिस अनुविभागीय अधिकारी वाड्रफनगर अनिल विश्वकर्मा के नेतृत्व में थाना प्रभारी रघुनाथ नगर निरीक्षक कृष्णा पाटले व उपनिरीक्षक विनोद पासवान व अन्य पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों की टीम गठित कर आरोपी की गिरफ्तारी के निर्देश दिए थे, जिस पर फरार आरोपी छत्रपति वर्मा पिता शंखलाल कुशवाहा 32 वर्ष, निवासी सोनहत, थाना रघुनाथनगर को गिरफ्तार किया गया।

खबरें और भी हैं...